06 जून 2017

मधेपुरा: 17 वर्षीया लड़की की गला दबाकर हत्या, कारण अबतक स्पष्ट नहीं

बिहार में बेटियों के प्रति भावनाओं में उपरी तौर पर पर भले ही परिवर्तन नजर आ रहे हों, पर अक्सर हो रही बेटियों की हत्या सभ्य समाज को बार-बार सोचने पर मजबूर कर दे रहा है कि आखिर हम कौन से युग में जी रहे हैं?

मधेपुरा जिले के उदाकिशुनगंज थाना क्षेत्र के उदा गांव में एक लड़की की गला दबाकर हत्या कर दी गई है. लड़की छोटी कुमारी  17  (वर्ष ) उक्त गांव के दानी यादव की पुत्री है और हत्या के बाद छोटी का मृत शरीर पास के एक मकई खेत में मिला है. हत्या के स्पष्ट कारणों का स्पष्ट पता नहीं चल पाने के कारण जांच में पुलिस को फिलहाल परेशानी होना स्वाभाविक है.

लड़की की हत्या के बावत मृतका के परिजनों का कहना है कि घटना की रात वे सभी बगल के गांव शादी समारोह में भाग लेने गए हुए थे. लड़की बहन के साथ घर पर थी. तीन बजे सुबह जब वे घर लौटे तो उन्हें बताया गया कि छोटी घर के छत पर सोई हुई है. उसके बाद वे लोग भी सो गए. सुबह किसी ने लड़की के शव को मकई खेत देखा तो उसके बाद इलाके में सनसनी फैल गई.

सूचना मिलने पर थानाध्यक्ष इन्स्पेक्टर के. बी.  सिंह, एसआई श्यामकिशोर प्रसाद, अयूब अंसारी पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे. पुलिस ने  शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल मधेपुरा भेज दिया. घटना को लेकर गांव में तरह-तरह की चर्चा है. घर वालों का कहना है कि लड़की इस बार इंटर परीक्षा में फेल हो गई थी जिसके बाद से तनाव में रहती थी. पर लाश घर में न मिलकर मकई खेत में मिलने की वजह से पुलिस अन्य पहलू पर विशेष गौर कर रही है. उदाकिशुनगंज के थानाध्यक्ष इन्स्पेक्टर के. बी. सिंह ने मधेपुरा टाइम्स को बताया कि जांच के बाद ही वास्तविकता सामने आ पाएगी. थानाध्यक्ष के. बी.  सिंह ने दावा किया है कि मामले के हर पहलू पर उनकी नजर है और जल्द ही घटना का उद्भेदन कर लिया जाएगा.
(रिपोर्ट: कुमारी मंजू)                             

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...