14 जून 2017

मार्शल आर्ट में पारंगत हो रहे मधेपुरा जिले के पुरैनी के बच्चे

मधेपुरा जिले के पुरैनी प्रखंड मुख्यालय स्थित एम एचीवर मार्शल आर्ट एकेडमी में एक दिवसीय  मिक्सड मार्शल आर्ट प्रशिक्षण का शुभारंभ प्रखंड प्रमुख थानाध्यक्ष जिला परिषद सदस्य  मुखिया व सरपंच ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्ज्वलित कर किया ।

मिक्स्ड मार्शल आर्ट बिहार के जेनरल सेक्रेटरी राजेश कुमार सिंह, चीफ इंस्ट्रक्टर अभिषेक कुमार एवं नेशनल  प्लेयर अमित कुमार शर्मा के द्वारा पटना से आकर इस सुदूर ग्रामीण क्षेत्र के बच्चे को एक दिवसीय प्रशिक्षण दिया गया ।

बता दें कि करीब दो तीन वर्ष पूर्व पुरैनी मुख्यालय निवासी राजमंगल निषाद ने मार्शल आर्ट की नींव इस छोटे से गांव में रखी और लगातार मार्शल आर्ट के प्रति उनका झुकाव और लगन ने उन्हें आज राज्यस्तर पर पहुंचा दिया । वो चीफ डेलिगट के रूप मे राज्य स्तर पर अपनी प्रतिभा का जौहर दिखा रहा है । वहीँ पुरैनी के ही  ये दोनो युवक अमित और राजमंगल ने मुख्यालय में एक प्रशिक्षण केन्द्र खोला और आज लगभग पुरैनी के पांच दर्जन छात्र छात्रा मार्शल आर्ट की कला मे निपुण हैं।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रमुख सविता कुमारी ने जहां अधिक से अधिक लड़कियों को मार्शल आर्ट सीखने को कहा वही थानाध्यक्ष राजेश कुमार रंजन ने कहा कि आत्मरक्षा के लिये लड़कियों व स्टूडेंट्स को दांव-पेंच स्टाइल तथा आघात पहुंचाने की कला सिखाई जाती है। जुडो कराटे, मार्शल आर्ट्स का एक समान उद्देश्य है. ख़ुद की या दूसरों की किसी शारीरिक ख़तरे से रक्षा करना सिखाया जाता है. मार्शल आर्ट्स न सिर्फ आत्मरक्षा की जा सकती है, बल्कि इसे करियर विकल्प भी चुना जा सकता है। मार्शल आर्ट में प्रशिक्षितों को सेना, अर्धसैनिक बलों, पुलिस बल तथा सुरक्षा एजेंसियों में रोजगार में प्राथमिकता मिलती है। इसके अलावा प्रशिक्षण प्राप्त करने के उपरांत जिम, फिटनेस सेंटर, कॉलेज और विभिन्न संस्थानों में इंस्ट्रक्टर के रूप में भविष्य सँवारा जा सकता है ।

मौके पर जिला परिषद् प्रतिनिधि मनोज यादव, मुखिया पवन कुमार केडिया, सरपंच उमेश सहनी,  पूर्व जिप सदस्य संजय सहनी, जाप युवाधयक्ष गौरव राय, विलास शर्मा, शिक्षक सुबोध सिंह सुधीर विष्णु केडिया, राजीव रंजन निषाद रौशन कुशवाहा, गोविंद कुमार सहित कई अन्य उपस्थित थे ।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...