20 जून 2017

आखिर तकनीकी अनुसंधान से चोरों का गैंग लीडर आया गिरफ्त में, सामान बरामद

मधेपुरा जिला के चौसा पुलिस ने एक मोबाइल चोर एवं चोरी के मोबाइल खरीददार को गिरफ्तार किया है। हैरत की बात थी कि मोबाइल चोर शराब के नशे में भी धुत था।

बता दें कि चौसा बाजार में ग़ांधी पुस्तकालय के पास श्रीकांत मेहता की दूकान में चोर लगातार चार बार हाथ साफ करते रहे और पीड़ित इसकी सूचना पुलिस प्रशासन को देते रहे। लेकिन चोर ने फिर पिछले 15 जून को दूकान पर हाथ साफ कर दिया। दुकानदार श्रीकांत मेहता ने पुलिस प्रशासन से गुहार लगाई कि मेरे यहाँ लगातार चोरी हो रही है और आज तक चोरों का कोई पता नहीं चल सका है. और लगातार चोरी से मुझ पर महाजन का बहुत कर्ज हो गया है।

थाना अध्यक्ष सुमन कुमार सिंह ने भरोसा दिलाया कि  इस बार चोर  पुलिस की गिरफ्त में होगा. थानाध्यक्ष श्री सिंह ने वैज्ञानिक अनुसंधान से बीती रात चोरी के मोबाइल खरीददार को पकड़ा तथा उसके निशानदेही पर मोबाइल चोर के घर पर छापेमारी कर चोर को धर दबोचा. चोर के पास से छह मोबाइल और मोबाइल चार्जर, एयर फोन आदि बरामद किया गया।

सुमन कुमार सिंह ने बताया कि चोरों का गिरोह का मुख्य सरदार ललन कुमार यादव है जो पुलिस के कब्जे में है। इसने और भी दुकान में चोरी के अंजाम देने की बात कबूल किया है। इसका मुख्य सहयोगी शत्रुघ्न कुमार यादव जो कि इसका खास चचेरा भाई है, वह फरार हो गया है । यही नहीं, यह चार नाबालिग लड़कों से भी चोरी का काम करवाता है। श्री सिंह ने बताया कि जिस समय ललन कुमार की गिरफ्तारी हुई उस समय वह नशे में धुत था तथा उसका मेडिकल जाँच भी करवाया गया. डॉक्टर द्वारा अल्कोहल होने की पुष्टि भी हुई।

अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी अरुण कुमार दुबे ने मधेपुरा टाइम्स से कहा कि हर चोर कोई न कोई गलती जरूर करता है और उसी गलती की वजह से पुलिस को अनुसन्धान करने का रास्ता मिलता है । चोर पुलिस के गिरफ्त में होता है इसमें भी गलती की और आज पुलिस के गिरफ्त में है, बाकी जो फरार है उस पर भी पुलिस प्रशासन अनुसंधान कर रही है वह भी जल्द ही पुलिस के गिरफ्त में होंगे। लेकिन हम पब्लिक से यह अपील करना चाहते हैं  कि पुलिस तो आप के सुरक्षा के लिए है लेकिन आप खुद भी अपने जान-माल की सुरक्षा करें ।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...