01 जून 2017

नाम भिखारी प्रसाद, पर अमीर बनने के चक्कर में चढ़ गया मधेपुरा में निगरानी के हत्थे

मधेपुरा में एक सरकारी अंचल अमीन आज निगरानी विभाग के हत्थे चढ़ गया और निगरानी विभाग ने अंचल अमीन को घूस लेते रंगे हाथ दबोच लिया है.

 आरोप के मुताबिक़ भिखारी प्रसाद नाम का सरकारी अंचल अमीन जमीन मापी और सर्वे के नाम पर लोगों से करता लगातार रिश्वत की मांग और अवैध राशी की उगाही का काम करता था. एक स्थानीय किसान अनिल प्रसाद यादव ने निगरानी विभाग में इस अंचल अमीन के खिलाफ शिकायत की थी जिसके बाद हरकत में आई निगरानी विभाग ने मधेपुरा पहुंचकर छापेमारी की और ₹ 10 हजार नगद रिश्वत लेते रंगे हाथों अमीन भिखारी प्रसाद को गिरफ्तार कर लिया.
मिली जानकारी के अनुसार जिला मुख्यालय के वार्ड संख्या 07 से सरकारी अंचल अमीन भिखारी प्रसाद को निगरानी की टीम ने गिरफ्तार किया. बताया गया कि वार्ड संख्या 07 के अनिल प्रसाद यादव से जमीन मापी और सर्वे के नाम पर सरकारी अमीन लगातार रिश्वत की मांग कर रहा था. इस मामले में स्थानीय अनिल प्रसाद यादव ने निगरानी विभाग को शिकायत की थी.

इस बाबत शिकायत कर्ता अनिल प्रसाद ने कहा कि सरकारी अंचल अमीन हमेशा लोगों को परेशान करता था और गाँव-गाँव अपना दलाल भेजकर लोगों से सर्वे के नाम पर मोटी रकम की उगाही करता था. उन्होंने मांग की कि सरकारी अंचल अमीन के बैंक खाते और घर की सघन जांच हो ताकि मामले में और भी खुलासा हो सके.

वहीँ निगरानी विभाग के डीएसपी गोपाल प्रसाद ने बताया कि स्थानीय अनिल प्रसाद यादव के शिकायत पर निगरानी विभाग ने की मधेपुरा में कार्रवाई की तो रंगे हाथों 10 हजार रूपये रिश्वत के साथ भिखारी प्रसाद अमीन को गिरफ्तार किया गया है. गिरफ्तार अमीन को जेल भेजा जा रहा है. ज्ञात हो कि जिले के ऐसे कई प्रखंडों में भी चल रहा है रिश्वतखोरी का गोरख धंधा जिससे स्थानीय लोग खासे परेशान हैं. निगरानी विभाग की इस कार्रवाई को लेकर जिले के कई प्रखंडों में भी चर्चा का बाजार गर्म है और सरकारी कर्मियों में हड़कंप मचा है. 

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...