15 जून 2017

छात्र नेताओं पर बर्बरतापूर्वक लाठीचार्ज के विरोध में मधेपुरा में एआईएसएफ का प्रदर्शन

पटना में एआईएसएफ के आंदोलन कर रहे छात्र नेताओं पर बर्बरतापूर्वक लाठीचार्ज के विरोध में मधेपुरा जिला मुख्यालय के टीपी कॉलेज के सामने एआईएसएफ ने रोड जाम कर प्रदर्शन किया.
 

आक्रोश व्यक्त करते हुए एआईएसएफ के कार्यकर्ताओं ने मुख्य मार्ग को घंटों जाम रखा जिससे सड़क के दोनों तरफ गाड़ियों की लंबी लाइन की कतार लग गई थी. जाम कॉलेज इकाई अध्यक्ष शरद कुमार हिमांशु राज के नेतृत्व में किया गया ज्जिस्में कार्यकर्ताओं ने शिक्षा विभाग एवं सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की.

छात्र नेताओं का कहना था कि सरकार की दमनकारी नीति को बर्दाश्त नहीं किया जा सकता. एआईएसएफ के राज्य उपाध्यक्ष सह विश्वविद्यालय प्रभारी हर्षवर्धन सिंह राठौर ने कहा कि इंटर रिजल्ट में हुई धांधली के विरोध में पटना में  आमरण अनशन पर बैठे आठ आम व छात्र नेताओं पर हुए हमले में एआईएसएफ के राज्य सचिव सुशील उमार का हाथ टूटना तथा अन्य का घायल होना सरकार का दमनकारी होना दर्शाता है. श्री राठौर ने मांग किया कि दोषी पुलिसकर्मियों को बर्खास्त करते हुए सरकार हमारी मांगें अविलम्ब माने. AIYF के राज्य उपाध्यक्ष शंभू क्रांति ने इस मौके पर कहा कि वर्तमान सरकार शिक्षा को लगातार गर्त की ओर ले जा रही है जिसके कारण सूबे का भविष्य दांव पर लग गया है.

आंदोलन का अध्यक्षता करते हुए सौरभ कुमार ने कहा कि यह आंदोलन सरकार की व्यवस्था को चुनौती है अगर समस्या में सुधार करते हुए अविलम्ब छात्रहित में पहल नहीं हुई तो राज्य में एक बड़े छात्र आंदोलन को फैलाना होगा. मौके पर हिमांशु राज, साधना कुमारी, सलमान, नीतीश कुमार, रोशन  एवम दर्जनों छात्र नेता मौजूद थे.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...