03 मई 2017

‘ग़रीबों के हित की बात की तो नीतीश ने मुझपर जानलेवा हमला करवाया’: पप्पू यादव

मधेपुरा में जनधिकार पार्टी के संरक्षक सह मधेपुरा सांसद पप्पू यादव जेल से निकलने के बाद बुधवार को जिला मुख्यालय के बीपी मंडल की धरती पर रासबिहारी हाई स्कूल मैदान में एक विशाल विश्वासघात रैली का आयोजन किया.
(सभी फोटो: मुरारी सिंह)

जहाँ कोसी और सीमांचल के इलाकों से बड़ी संख्या में पार्टी कार्यकर्ता समेत लोग पहुंचकर पप्पू यादव के भाषण को सुना. बता दें कि मौजूद लोगों को संबोधित करते हुए मंच से पप्पू यादव ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और लालू यादव के विरुद्ध जमकर मोर्चा खोला. कहा एक तरफ राजगीर में कार्यकर्ता सम्मलेन हो रहा है तो दूसरी तरफ किशुनगंज में कोसी और सीमांचल के विकास को लेकर किसी नेता ने एक सवाल तक नहीं किया. उन्होंने कहा कि बिहार में एक बीडीओ तक के पास अकूत संपत्ति है. वहीँ पप्पू यादव ने लालू यादव पर तंज कसते हुए कहा कि है हिम्मत है तो लालू यादव खुद कहे कि सुशील मोदी की भी सम्पतियों का जाँच हो, मैं भी उनके साथ हूँ. लेकिन लालू यादव खुद अपने बेटा और बेटियों की संपत्ति भी जांच करावें. उधर कोसी और सीमांचल के विकास को लेकर पप्पू यादव ने कहा जब लालू यादव और नीतीश कुमार खुद रेल मंत्री थे, तब कोसी के इन इलाकों में एक भी रेल परियोजनाओं पर ध्यान नहीं दिया ना हीं कोई विकास का काम किया जब ये दोनों यहाँ से चले गए तब आज मेरे समय में सभी जगहों पर रेलवे का विकास हुआ है. चाहे सुपौल से भपटियाही रेल परियोजना हो या फिर मधेपुरा का विद्युत रेल इंजन कारखाना.

पप्पू यादव ने कहा कि बिहारीगंज और वीहपुर से खुर्दा होते वीरपुर तक रेल परियोजना का कार्य आने वाले समय में चालू हो रहा है. मधेपुरा सांसद सह जनधिकार पार्टी के संरक्षक श्री यादव ने बिहार सरकार के मुखिया को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि नीतीश कुमार अगर तीन महीनों के अन्दर सरकारी अस्पतालों के चिकित्सकों का निजी क्लिनिक बंद नहीं करवाया तो पप्पू यादव सड़क से लेकर सदन तक सरकार के विरुद्ध आर-पार की लड़ाई लड़ने को तैयार है. उन्होंने कहा कि अगर मेरी सरकार बिहार में हुई और मैं खुद मुख्यमंत्री बना तो 10 करोड़ और 50 करोड़ की सम्पति रखने वाले लोगों को कदापि इजाजत नहीं दूंगा.

सांसद श्री यादव ने मंच से अपने संबोधन में ये भी कहा कि जब मैं बिहार के गरीबों के हित में आवाज बुलंद किया तो नीतीश कुमार मेरे ऊपर जानलेवा हमला करवा दिया और जमकर लाठियां चटकाई जिससे कई सहयोगी भी घायल है. बिहार में शिक्षा व्यवस्था हो या अन्य व्यवस्था पूरी तरह से चरमराई हुई है. बिहार के लोगों को ये दोनों भाई मिलकर लूटने का प्रयास कर रहे हैं. जो अब पप्पू यादव के रहते कभी संभव नहीं है ये लोग सिर्फ व सिर्फ वोट की गंदी राजनीत कर रहे हैं इन्हें बिहार के विकाश से कोई वास्ता नहीं है. उन्होंने कहा कि शरद यादव के द्वारा कई बार सहरसा में ओभर ब्रीज का उद्घाटन किया गया लेकिन आज तक सहरसा में ओभर ब्रिज नहीं बना . लेकिन अब जब तक सहरसा में ओभर ब्रीज का निर्माण नहीं हो जाता है तब तक पप्पू यादव चैन से नहीं बैठेगा. सहरसा में बिना ओभर ब्रिज का निर्माण करवाए पप्पू यादव 2019 में नॉमिनेशन भी नहीं देगा . पप्पू यादव ने मंच से जमकर सरकार के विरुद्ध नारेबाजी भी की.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...