08 मई 2017

प्यार करने की सजा हत्या !: छात्रा के पिता को नहीं हुआ ये प्यार गंवारा

मधेपुरा जिले के मुरलीगंज थाना अंतर्गत तमोट परसा गांव के वार्ड नं. 1 में  एक 32 वर्षीय अज्ञात व्यक्ति का शव मुरलीगंज पुलिस द्वारा 28 अप्रैल को अहले सुबह नहर के किनारे लगे मक्के खेत के बीच से बरामद किया गया था.

शव पोस्टमार्टम होने तक अज्ञात घोषित किया गया था, परंतु कुछ ही दिनों बाद मृतक की पहचान राहुल कुमार पिता चंदेश्वरी सिंह ग्राम सिकियाही जो कुमारखंड थाना के भतनी ओपी अंतर्गत पड़ता है, के रूप में हुई । मुरलीगंज थानाध्यक्ष राजेश कुमार शव बरामदगी के बाद से ही हत्याकांड के रहस्य को सुलझाने कोशिश कर रहे थे, पर मामला काफी उलझता ही जा रहा था. अंततः तकनीकी अनुसंधान से रविवार को इस रहस्यमय हत्याकांड पर से पर्दा उठाने में वे कामयाब रहे.

उन्होंने बताया कि हत्या प्रेम प्रसंग से जुड़ा है.  पिछले दिनों इंटर की परीक्षा के दौरान मुरलीगंज थानाक्षेत्र की एक छात्रा से राहुल कुमार का प्रेम प्रसंग शुरू हुआ और यह प्रेम छात्रा के पिता को नागवार गुजरा और उन्होंने राहुल कुमार के गांव पहुंचने पर अपने परिवार एवं और कुछ लोगों के साथ मिलकर राहुल कुमार की हत्या कर उसके हाथ पैर रस्सी एवं गले में रस्सी लगाकर लगा कर मृतक शरीर को नहर के किनारे मक्के के खेत में फेंक दिया था. 

घटना के रहस्यों पर से तकनीकी अनुसंधान के सहयोग से पर्दा उठाने में मुरलीगंज थानाध्यक्ष सफल रहे. मुरलीगंज थाना कांड संख्या 121/17 धारा 302, 201, 34 के तहत अप्राथमिकी एक अभियुक्त पर रविवार को मामला दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार किया गया और सोमवार को जेल भेज दिया गया. हत्या में संलिप्त और अभियुक्त का नाम देने से पुलिस परहेज कर रही है क्योंकि उनके अनुसंधान पर असर ना पड़े.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...