11 मई 2017

शादीशुदा महिला से छुप कर मिलना युवक को पड़ा महंगा, पिटाई के भय से की शादी !

ना उम्र की सीमा हो ना प्यार का हो बंधन, जब प्यार करे कोई तो देखे केवल मन । प्रेमगीत का यह गीत सिंहेश्वर के इस ताजा मामले में शुरू में तो सटीक बैठता लगता है जब युवक अपने से काफी बडी उम्र की औरत से प्यार करने का दम भरता है पर वह प्यार उस समय काफूर हो जाता है जब पता चलता है कि पिता उन्हें घर में घुसने नही देंगे ।

  मिली जानकारी के अनुसार कहानी का सारांश इस प्रकार है कि मधेपुरा जिले के गौरीपुर वार्ड सदस्य के पुत्र को अपने से डेढा उम्र की दो बच्चों की मां कल्पना देवी के साथ अवैध शारीरिक संबंध बनाते हुए ग्रामीणों ने पकडा । ग्रामीणों ने इस सडक छाप मजनू की जमकर की धुनाई कर दी । जानकारी के अनुसार सोमवार की रात 3 बजे कल्पना देवी ने अपने घर के लोगों के बगल में हो रहे शादी समारोह में जाने के बाद फोन करके अपने आशिक को बुलाया।  लेकिन आशिक का दुर्भाग्य था उसे अचानक घर आई एक महिला ने देख लिया ।  लोगों के अनुसार गौरीपुर पंचायत के पवन महतो का 18 वर्षीय पुत्र सुमित कुमार को पटोरी डोमा चौक निवासी मुकेश मेहता की पत्नी कल्पना देवी के साथ पकड़ा । सुमित कुमार ने बताया कि हमारी मुलाकात नोटबंदी के समय भारतीय स्टेट बैंक के सिहेंश्वर शाखा में पैसा निकासी के दौरान हुई थी । उसी समय से हम लोग छुप छुप कर मिल रहे हैं । सोमवार को इसके घर के बगल में शादी थी । उसका फायदा उठाने के लिए मुझे फोन कर के  बुलाया । उसने बताया लोग उस महिला से शादी करने के लिए कागज बना कर साईन करवा लिया है । वही महिला पर इस कांड का कोई असर नहीं नजर आ रहा है ।  उससे अपने कुकर्मों पर तनिक भी पछतावा नही है।

इस कथित प्रेम-प्रसंग का एक पहलू यह भी है कि लड़के के पिता ने अपनी होने वाली नई और दो बच्चे की माँ बहू को अपने घर में रखने से इनकार कर दिया है तो युवक ने मार के डर से शादी की बात मान तो लिया, लेकिन जब पता चला कि शादी के बाद उसके पिता उसे अपने घर में घुसने नही देगा तो उसके प्यार की हवा ही निकल गई।

वही  पुलिस अभी तक घटनास्थल पर नहीं पहुची है । एक तरफ लड़की के परिजन मुकेश कुमार ने चोरी छुपे घर में घुसने का आवेदन दिया तो दूसरी तरफ लड़के के पिता ने जबरदस्ती शादी कराने का आवेदन दिया. इस बाबत थानाध्यक्ष बीडी पंडित ने तो अभी तक आवेदन मिलने से ही पल्ला झाड लिया और बताया अभी तक कोई आवेदन मेरे संज्ञान में नहीं आया है। छापेमारी के क्रम में थाने से  बाहर हूं संज्ञान में आते ही आगे की कार्रवाई की जाएगी । तीन दिन से चल रहे इस हाईवोल्टेज ड्रामे का अंत क्या होगा, देखना बाकी है.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...