22 मई 2017

‘ये प्यार था या ....’: शादी के 12 वर्ष के बाद महिला ने दूसरे युवक के लिए घर छोड़ा

कभी-कभी सम्बन्ध के ऐसे उलझे मामले आते हैं जिन्हें समझना मुश्किल हो जाता है. ये पता नहीं चल पाता है कि ये प्रेम सम्बन्ध होते हैं या महज आकर्षण या वासना पर आधारित सम्बन्ध.

ऐसे मामले में प्रेमी या प्रेमिका प्रेम का दंभ भरता है पर पीछे इतनी बड़ी जवाबदेही को नजरअंदाज कर देते हैं जो दर्शाता है कि ये प्रेम सम्बन्ध है या सिर्फ मानसिक दिवालियापन.

मधेपुरा जिले के चौसा थाना अंतर्गत रसलपुर धुरिया पंचायत के सौतारी निवासी मनोज साह ने बताया कि मेरी शादी 12 वर्ष पहले ममता देवी के साथ हुई थी, जिससे मुझे दो संतान भी हैं कृष्ण कुमार (6 वर्षीय) और कन्हैया कुमार (4 वर्ष). उसके बाद हमने अपने पत्नी का परिवार नियोजन भी करवा दिया था। छोटा परिवार सुख का आधार लेकिन में मेरे सुख को नजर लग गई। जब एक युवक राजा कुमार जिसकी उम्र लगभग 18 वर्ष ग्राम भागीपुर थाना आलमनगर जिला मधेपुरा मेरी भोली भाली पत्नी को बहला फुसला कर भगा ले गया। दोनों बच्चे अपनी माँ के आने का रास्ता देखते रहते हैं। इसकी जानकारी चौसा थाना अध्यक्ष सुमन कुमार सिंह को दिया गया तथा श्री सिंह ने कार्यवाही करते हुए राजा कुमार के परिजन पर दवाब बनाया तथा महिला और लड़के की खोज बीन शुरू कर दिया । आखिर कर दोनों को चौसा थाना में हाजिर किया गया। मामला प्रेम प्रसंग का निकला।

जबकि राजा कुमार ने मधेपुरा टाइम्स को बताया कि हम दोनों 2 वर्षो से एक दूसरे से प्यार करते हैं और एक मंदिर में जन्म जन्म साथ रहने की कसमें खाई है। उधर थाना अध्यक्ष ने बताया कि लड़के को जेल भेज दिया है और महिला को न्यायालय में 164 द.प्र.सं. के बयान के लिए भेज दिया है।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...