29 मई 2017

मधेपुरा में दहेज रूपी दानव ने फिर छीन ली एक बाप से उसकी बेटी

‘हे हो बाबू हमर बेटी के मायर दलकय’ । एक बार फिर दहेज रूपी दानव ने एक बाप से उसकी बेटी छीन ली।
 
जानकारी के अनुसार इटहरी गहुमनी पंचायत के गहुमनी में एक विवाहिता का गला घोट कर हत्या कर लाश जलाने का मामला आया है । जानकारी अनुसार मुरलीगंज प्रखंड के नाराणपुर निवासी योगेन्द्र राम ने बताया कि मेरी बेटी कविता देवी की शादी 2004 में कुलदीप राम से हुई थी । शादी के कुछ दिन बाद ही मेरी बेटी के ससुराल वाले उसके साथ मारपीट करने लगे । लगातार हो रहे मारपीट के कारण समाजिक स्तर पर कई बार पंचायत हुई । परंतु मारपीट का आलम नही रूका तो आजिज होकर 2010 में इसको लेकर कोर्ट में केश दर्ज हुआ । लेकिन समाजिक स्तर पर समझाने पर मामला सलट लिया गया । लेकिन मामला खत्म होते ही उसकी मारपीट की हरकत फिर शुरू हो गई । तब दुबारा 2016 में भी कोर्ट में ही केश दर्ज किया गया । फिर उसके ससुराल  वाले ने मेरी बेटी और मुझे मेल- मिलाप करवाने का दवाब बढा दिया । हालांकि हमलोगों ने मेल मिलाप नही किया. मेल- मिलाप नही होता देख जान से मारने की धमकी देने लगा । आखिर कार 26 मई की रात बंद कमरे में सबने मिलकर मेरी बेटी को गला दबाकर मार दिया और लाश को ठिकाने लगाने के लिए आनन फानन में घर के कुछ दुरी पर स्थित बसबिट्टी में ही लाश को जला दिया ।

27 मई को मै अपने नाती को लेकर बेटी को पहुंचाने गहुमनी पहुंचा तो पूरा परिवार सन्न था । मै अपनी बेटी को घर में नही देख पूछा तो सबको सांप सुंघ गया ।  किसी ने कुछ भी नही बताया. बहुत जोर देने पर कहा आपकी बेटी को करंट लग जाने से मौत हो गयी थी ।  जिसका दाह संस्कार भी कर दिया गया ।  बिना सूचना के मेरी बेटी का दाह संस्कार कर देने से मुझे संदेह हुआ कि इन लोगों ने मेरी बेटी को मार दिया है और करंट लगने से मरने की अफवाह फैला दिया ।

इस बाबत थानाध्यक्ष बीडी पंडित ने बताया कि मृतिका के पिता के आवेदन पर पति सास ससुर सहित 13 व्यक्तियों पर मामला दर्ज किया जा चुका है ।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...