17 मई 2017

मधेपुरा: शराब की सूचना देने वाले को कीमत का 10% इनाम, ताबड़तोड़ कारवाई

शराबबंदी को ले जिला प्रशासन ने अब कमर कस ली है। शराब को ले सीमा प्रवेश पर चौकसी बढ़ा दी गई है। शराब के आपूर्तिकर्ता, स्टॉकिस्ट और डोर डिलिवरी करने वाले का पता लगाने और पूछताछ के लिए दोनों अनुमंडलों में अलग अलग पुलिस टीम गठित की गई है।

जिलाधिकारी मु सोहैल और एस पी विकास कुमार के साथ जिले के आला अधिकारियों की बैठक में बताया गया कि अब अगर कोई व्यक्ति शराब की सूचना देगा तो उसे बरामद शराब की कीमत का दस प्रतिशत हिस्सा बिना उसके नाम को प्रकाशित किए पुरस्कार स्वरूप दिया जाएगा।

जिले में अभी शराब की आवाजाही को पकड़ने के लिए मठाही, गम्हरिया और भटगामा में चेक पोस्ट कार्यरत हैं। अब मुरलीगंज और पीपरा रोड में भी चेक पोस्ट स्थापित की गई है। भटगामा चेक पोस्ट चौबीस घंटे हरेक वाहन की जांच करेगी कि शराब तो नहीं ढोई जा रही है। जिलाधिकारी ने आज ही एक छात्रावास में शराब की बड़ी खेप बरामदगी की घटना का हवाला देते हुए दोनों एस डी ओ को निर्देशित किया कि सभी छात्रावासों को पंजीकरण कराने का निर्देश दिया जाय। उन्होंने यह भी बताया कि मई माह में अब तक शराब को ले 281 स्थलों पर छापामारी की गई है और तैतालिस प्राथमिकियां जिले में दर्ज की गई है। अब तक दो सौ छह लीटर से अधिक अंग्रेजी शराब, तेहत्तर लीटर महुआ शराब और चार सौ छब्बीस बोतल कोरेक्स बरामद की गई है।

एस पी विकास कुमार ने बताया कि अब सिर्फ शराब पीने और बेचने वाले की गिरफ्तारी ही नहीं होगी बल्कि दोनों अनुमंडलों में दो टीम गठित की गई है जो गिरफ्तार अभियुक्त से पूरी पूछताछ कर इस धंधे में संलिप्त सभी लोगो को  पकड़ने की कारवाई की जाएगी। मधेपुरा की टीम में एस आई अरुण कुमार, राजेश चौधरी, संजीव कुमार और राजेश कुमार नं. 3 जैसे पुलिस पदाधिकारियों को रखा गया है जबकि उदाकिशुनगंज टीम में इंस्पेक्टर के पी सिंह और एस पी राम के साथ एस आई गोपाल कृष्ण और राज निवास को रखा गया है। दोनों ही अनुमंडलों के थाना क्षेत्र के किसी भी ठाना क्षेत्र में जब कोई शराब का अभियुक्त पकड़ा जाएगा तो संबंधित टीम जाकर उससे पूछताछ कर पूरे गिरोह का उद्भेदन करेगी।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...