29 अप्रैल 2017

मधेपुरा: फुलौत ओपी में तोड़फोड़ के दौरान मारपीट में घायल पत्रकार के घर पहुंचे

मधेपुरा चौसा प्रखण्ड के फुलौत ओपी में पिछले दिनों शहंशाह चौधरी के अपहरण तथा हत्या के बाद असमाजिक तत्वों के द्वारा फुलौत ओपी में तोड़फोड़ एवं पत्रकार के साथ मारपीट में घायल हुए पत्रकार के स्वास्थ्य की जानकारी लेने चौसा थाना अध्यक्ष सुमन कुमार सिंह के साथ कई बुद्धिजीवी लोग उनके घर पहुंचे।

    चौसा प्रखंड के भूतपूर्व बीस सूत्री अध्यक्ष अम्बिका प्रसाद गुप्ता ने कहा कि शहंशाह चौधरी के साथ हुई घटना अमानवीय है। साथ ही पत्रकार के साथ असामाजिक तत्वों द्वारा मारपीट करना भी काम नहीं है. मैं इस की भी निंदा करता हूँ पत्रकार हमारे समाज का हिस्सा है. जदयू प्रखंड सचिव नरेश ठाकुर निराला ने कहा कि पत्रकार पर हमले की भर्त्सना करता हूँ और हमारा समाज पत्रकार के साथ हमेशा खड़ा रहेगा । भूतपूर्व मुखिया सूर्य कुमार पटवे ने कहा कि फुलौत में जो पत्रकार के साथ घटना घटी है वहाँ के लोगों ने अपनी मूर्खता का परिचय दिया है । चौसा पश्चिमी पंचायत के पूर्व सरपंच प्रतिनिध संतोष कुमार पासवान ने कहा कि पत्रकार तो समाज का आईना होता है, इस पर हमला करना कायरता का परिचय देना है ।

चौसा प्रशासन एवं बुद्धिजीवी लोगों ने बिपिन बिहारी को एक मोबाइल उपहार स्वरुप दिया। चूंकि फुलौत में समाचार संकलन के दौरान असमाजिक तत्वों ने पत्रकार बिपिन बिहारी का मोबाइल छीन लिया था। मौके पर चमकलाल मेहता, अबुसालह सिद्दीकी, बीरेंद्र कुमार, अखिलेश मेहता,झाबर मेहता,मुकेश कुमार, नौशाद आलम इत्यादि मौजूद थे.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...