04 अप्रैल 2017

मधेपुरा: नव प्रोन्नत प्रधानाध्यापकों के मेडिकल दावों की हुई जांच

जिले में बड़ी संख्यां में  शिक्षकों को प्रोन्नति के बाद प्रधानाध्यापक पद देकर पदस्थापन लाटरी के आधार पर किया गया था। लेकिन कई प्रधानाध्यापकों को पदस्थापन स्थान रास नहीं आया। कुछ की बीमारी सम्बन्धी मजबूरियां भी थी।

   कई लोग अपने मनोनुकुल स्थान पाने में सफल भी हो गए। लिहाजा इसका व्यापक विरोध हुआ तो सिर्फ मेडिकल आधार पर प्राप्त आवेदनों की जांच के लिए मेडिकल टीम गठित की गयी।
       मंगलवार को उप विकास आयुक्त की अध्यक्षता में सिविल सर्जन और डॉ पवन कुमार ने मधेपुरा अनुमंडल के नव प्रोन्नत प्रधानाध्यापकों की मेडिकल जांच की जिसमे मात्र 13 लोग उपस्थित हुए। उदाकिशुनगंज अनुमंडल के प्रधानाध्यापकों की जांच 5 अप्रेल को होने वाली थी। लेकिन रामनवमी के कारण इसे तत्काल स्थगित कर दिया गया है। डी इ ओ शिवशंकर राय ने बताया कि जाँच की तिथि बाद में घोषित की जाएगी।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...