08 अप्रैल 2017

राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ का प्रशिक्षण संपन्न: शहर में निकाली गई आकर्षक पैरेड

राष्ट्रीय स्वंय सेवक का सात दिवसीय प्रशिक्षण शिविर का शनिवार को समापन हो गया। इस अवसर पर शहर में स्वंयसेवियों ने आकर्षक परेड किया। आम लोगो ने भी परेड पर पुष्पवर्षा कर उनका स्वागत किया।

         वेद व्यास कॉलेज परिसर में समापन समारोह को संबोधित करते हुए प्रान्त प्रचारक रामकुमार जी ने कहा कि संघ का उद्देश्य भारत को सर्वश्रेष्ठ और विश्व का नेतृत्व कर्ता बनाना है। इसके लिए हमें अपने भ्रामक मतभेदों को त्याग कर एकजुट प्रयास करने की जरुरत है।
    उन्होंने कहा कि हिन्दुओं की एक मजबूत धार्मिक और आध्यात्मिक पृष्ठभूमि रही है। हमारे देश के पास अकूत प्राकृतिक संसाधन भी है। इसके कारण विश्व का नेतृत्व करने का हम माद्दा रखते हैं। अंग्रेज इस बात को जान गए थे और उन्होंने हमारे देश को जहाँ भरपूर लूटा वहीँ यहाँ की जनता को आपस में लड़ाने के लिए इतिहास की गलत व्याख्या की। आदिवासिओ से फुट डलवाने के लिए इतिहास लिख कि भारत के मूल निवासी आदिवासी ही है। द्रविड़ को दक्षिण भारत भगाने का आरोप हमलोगों पर लगाया और हमें बाहरी देशो से आया हुआ आर्य कह कर मनमानी व्याख्या की। हमारे समृद्ध वेदों उपनिषदों को कपोल कल्पित और माईथोलोजी कहा। अंत में मुसलमानों से फूट डलवाने के लिए पाकिस्तान तक का सृजन करवा  डाला।
         उन्होंने कहा कि संघ के स्वंय सेवी हिंदुत्व को मजबूत करने, सभी भारतीय को एक सूत्र में पिरोने और आतंकवाद को जड़ से समाप्त करने का काम करेंगे ताकि भारत फिर से विश्व नेतृत्व कर सके।
     इस अवसर पर आर एस एस के निरन्जन जी और प्रो दीप नारायण जी के अतिरिक्त भाजपा जिलाध्यक्ष स्वदेश यादव, ज्योति मंडल आदि उपस्थित थे।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...