30 अप्रैल 2017

दुर्घटनाओं को आमंत्रण दे रही जर्जर हो चुकी सड़क: अधिकारी-जनप्रतिनिधि उदासीन

मधेपुरा जिले के घैलाढ़  प्रखंड से बैजनाथपुर-लिटियाही मेन रोड के मरम्मत के नाम पर खानापूर्ति कर दी गई है और सड़क के हालात इस कदर बिगड़ चुके हैं कि इससे गुजरने वाले लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है.
सड़क से प्रभावित ग्रामीणों का कहना है बैजनाथपुर से लिटियाही जो मुख्य सड़क सहरसा  मधेपुरा और सुपौल तीनों जिला से गुजरने वाली सड़क से मिली है, इसकी मरम्मत के नाम पर बड़ी राशि की निकासी कर कहीं-कहीं ईट के टुकड़े और मिट्टी गिरा कर सिर्फ खानापूर्ति कर दी गई है.

सड़क पर बने गड्ढे दुर्घटना के कारण बनते जा रहे हैं । जर्जर सड़कों को शीघ्र ही दुरुस्त नहीं किया गया तो बरसात के दिन बने गड्ढे भारी वाहनों के लिए दुर्घटना के कारण तो बन ही गया है, अभी भी मोटरसाइकिल या पैदल चलने वाले राहगीरों में भय की स्थिति पैदा उत्पन्न हो रही है और ऐसे में  किसी प्रकार की दुर्घटना घटना कभी भी होने की आशंका बनी रहती है ।

सड़क खराब रहने के कारण रोगियों को अस्पताल ले जाना मुश्किल हो जाता है और सड़क पर बरसात के पानी जमा होने पर कहीं-कहीं गड्ढे में घुटनों से ऊपर तक पानी हो जाता है. इस समस्या को दूर करने की दिशा में न ही पदाधिकारी और ना ही जनप्रतिनिधियों की ओर से सार्थक प्रयास किया जा रहा है. पथ निर्माण विभाग की लापरवाही के चलते बड़ी दुर्घटना को अंजाम दे सकती है.

स्थानीय लोगों का कहना है कि थोड़ी भी बारिश होने पर हम लोगों को चलना मुश्किल हो जाता है जबकि इस क्षेत्र के विधायक मंत्री भी बने लेकिन हम लोगों को संकट का सामना करना पड़ ही रहा है.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...