25 अप्रैल 2017

'बाबू वीर कुंवर सिंह जमींदार ही नहीं बल्कि देश के पहरेदार भी थे': राजनाथ सिंह सहरसा में

सहरसा। बाबू वीर कुंवर सिंह विजयोत्सव समारोह सह वीर कुंवर सिंह की मूर्ति अनावरण केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने  सहरसा के पटेल मैदान में सेना के हेलीकॉप्टर से उतरने के बाद वीर कुंवर सिंह चौक पहुंचकर किया।
गृह मंत्री ने कमांडो सुरक्षा व्यवस्था एवं गाड़ियों के काफिले के साथ वीर कुंवर सिंह चौक पहुंचकर बाबू वीर कुंवर सिंह की विशाल मूर्ति का अनावरण किया। अनावरण करते उपस्थित लोगों ने वीर कुंवर सिंह अमर रहे के नारे के साथ लोगों ने जमकर तालियां बजाई।
    अनावरण उपरांत पटेल मैदान में आयोजित महती सभा को संबोधित करते हुए केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि बाबू वीर कुंवर सिंह वीर ही नहीं महावीर थे। वीर कुंवर सिंह जमीनदार ही नहीं वह देश के पहरेदार भी थे।  उन्होंने 80 वर्ष की उम्र में 1857 की क्रांति में जिस प्रकार अंग्रेजों के दांत खट्टे किए आज भी युवाओं को प्रेरित करते हैं। उन्होंने कहा कि सुकमा में नक्सलियों द्वारा सीआरपीएफ के जवान पर किए गए हमले कायराना पूर्ण हैं। उन्होंने ललकारते हुए कहा कि नक्सली मां का दूध पिया है तो सामने आकर लड़े। उन्होंने कहा कि नक्सल के खात्मे के लिए बड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि मैं पाकिस्तान से सौहार्दपूर्ण वातावरण बनाए रखना चाहता हूँ । परंतु पाकिस्तान हमारे देश पर एक भी गोली चलाई तो हमारे देश के जवान इतनी गोलियां चलाएंगे कि वह गिन भी नहीं पाएंगे। वही उन्होंने कहा कि समय आ गया है कि देश में फैले नक्सलियों के खात्मे के लिए कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए। बाबू वीर कुंवर सिंह की प्रतिमा सहरसा के लोगों को देश के लिए कुर्बान होने वाले योद्धाओ की याद दिलाएगी। सभा को भाजपा प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय,शैयद शाहनवाज हुसैन, पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, सांसद चिराग पासवान, विधायक नीरज कुमार बबलू, विधान पार्षद नूतन सिंह,पूर्व विधायक संजीव झा, किशोर कुमार मुन्ना, आलोक रंजन, प्रदेश उपाध्यक्ष रामनरेश सिंह, प्रसून सिंह भाजपा जिलाध्यक्ष नीरज गुप्ता सहित अन्य ने संबोधित किया।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...