06 अप्रैल 2017

‘प्रशासनिक धौंस से शिक्षा सत्याग्रह को सरकार करना चाहती है विफल’: शिक्षक संघ

बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष केदार नाथ पाण्डेय और महासचिव शत्रुघ्न प्रसाद सिंह ने संयुक्त बयान कर कहा कि सरकार लाखों छात्र-छात्राओं के प्रति संवेदनहीन है.

    15 मार्च से इंटर तथा 1 अप्रैल से मैट्रिक की उत्तरपुस्तिकाओं का मूल्यांकन सरकार एवं बिहार विद्यालय परीक्षा समिति की उपेक्षा नीति के कारण शिक्षा सत्याग्रह चलाया जा रहा है. विभिन्न मांगों को लेकर यदि सरकार सम्मानजनक समझौता नहीं करती है तो बिहार विद्यालय माध्यमिक शिक्षक संघ 15 अप्रैल से शिक्षा श्रृंखला तथा जन हस्ताक्षर अभियान चलाएगा. कहा कि सरकार शांतिपूर्वक, अहिंसक तथा असहयोगात्मक आन्दोलन को प्रशासनिक धौंस से विफल करना चाहती है.
    जारी प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया कि मधेपुरा के जिला पदाधिकारी के द्वारा सत्याग्रहियों के साथ अमर्यादित व्यवहार की संघ निंदा करता है और मुख्य सचिव, बिहार सरकार को सूचित किया है कि उन्हें अमर्यादित व्यव्हार के प्रति खेद प्रकट करना चाहिए अन्यथा स्थिति बिगड़ने की जवाबदेही सरकार की होगी.
 (नि. सं.)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...