22 अप्रैल 2017

बाढ़ राहत नहीं मिलने पर ग्रामीणों ने चौसा अंचलाधिकारी को वेश्म में ही घेरा

 मधेपुरा जिले के चौसा अंचल कार्यालय में सैकड़ों की तादाद में  बाढ़ प्रभावित ग्रामीणों ने अंचलाधिकारी अजय कुमार को उनके ही वेश्म में घेर लिया और हंगामा शुरू कर दिया.

        ग्रामीण अमरेंद्र कुमार महतो, मिश्री राय, लखन महतो, उमेश महतो, बिमल देवी, समता देवी, चन्द्रकला देवी, मसो0 सीता देवी, मुरली देवी, सुकनि देवी, काम देवी, रुक्मणी देवी, माया देवी, मंजो देवी, सुमित्रा देवी, फेको देवी, नीलम देवी, सविता देवी, मसो0 लड़ो देवी, रानी देवी, सुरेश महतो, रंजो देवी आदि महिला एवं पुरुष का कहना था कि आज बाढ़ को आए सात महीने बीत चुके हैं. लेकिन बाढ़ राहत के नाम पर छह हजार रूपये देने की बात थी जिसके लिए हम लोगों को बैंकों में खता खुलवाने को कहा गया था. हम लोगों ने कर्ज लेकर खाता खुलवाया लेकिन अभी तक हमारे खाते में एक रुपया भी नहीं आया है । हम गरीबों के साथ यह छलावा हुआ है।
    उधर अंचलाधिकारी अजय कुमार ने कहा कि हमारी तरफ से फुलौत पूर्वी के तेरह सो उनतीस फुलौत पश्चिमी चौदह सो उनसठ मोरसंडा नो सो दो चिरौरी तिन सो पचपन परिवारों के सूचि के साथ संबधित बैंक को  एडवाइस भेजा जा चुका है बैंक द्वारा जल्द ही उनके खाते में बैलेंस भेज दिया जाएगा।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...