25 अप्रैल 2017

लक्ष्मण को डीएम ने भिजवाया पीएमसीएच, पप्पू यादव ने बढ़ाया मदद का हाथ

बहुचर्चित लक्ष्मण साह सड़क दुर्घटना प्रकरण में मधेपुरा के जिला पदाधिकारी मो० सोहैल के द्वारा किया सराहनीय प्रयास किया गया है और पटना में मधेपुरा सांसद भी पीड़ित परिवार की मदद को सामने आ गए हैं.

जिला पदाधिकारी द्वारा एंबुलेंस और चिकित्सा भिजवाकर विधायक की गाडी से कथित दुर्घटनाग्रस्त लक्ष्मण साह को मधेपुरा मंगवाया गया और मधेपुरा से उन्हें बेहतर इलाज के लिए पीएमसीएच के लिए भेज दिया गया.
 
लेकिन बताया गया कि पीएमसीएच पहुंचते ही मरणासन्न अवस्था में चल रहे लक्ष्मण साह और उनके परिवार को देखने वाला कोई नहीं था. यहां तक की पीएमसीएच में चिकित्सकों ने भी उनकी कोई खोज खबर नहीं ली. लक्ष्मण के परिजनों ने किस्मत को कोसते हुए  कहा कि अगर हमारा इलाज नहीं करवाना था तो इलाज के नाम पर यह नाटक क्यों किया गया और हमें घर से मधेपुरा और मधेपुरा से फिर इस पटना अनजान सी जगह में क्यों लावारिस अवस्था में छोड़ा गया ? मरना ही है तो वाले घर पर ही ठीक.
 
इस मामले की जानकारी जब जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय संरक्षक सह मधेपुरा सांसद राजेश रंजन यादव और पप्पू यादव के संज्ञान में आया तो वे लक्ष्मण के इलाज के लिए मदद को आगे आए और उन्होंने लक्ष्मण के इलाज के लिए अपने प्रतिनिधि वह पीएमसीएच भेजा जहां लक्ष्मण के परिजनों को उन्होंने पीएमसीएच के इमरजेंसी वार्ड में तुरंत की दाखिला दिलवाया और फिर डॉक्टरों के कहने पर सीटी स्कैन करवाया गया तथा रिपोर्ट के अवलोकन के उपरांत डॉक्टरों ने  चोट लगने के कारण ब्रेन में पानी हो जाने की बात बताई. साथ ही यह भी बताया कि  इनके स्वास्थ्य सुधार में  लंबा समय लग सकता है. बताया गया कि  सांसद प्रतिनिधि  आई जी एम एस के  चिकित्सकों से  इस विषय पर सलाह मशवरा लिया गया  है चिकित्सकों की टीम के द्वारा उनके इलाज का समुचित व्यवस्था की.

सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने मधेपुरा टाइम्स को फोन पर इस आशय की जानकारी दी कि हमने लक्ष्मण साह के परिवार को सांत्वना दिया और कहा मैं हर संभव मदद करूंगा गरीबों की मदद करना यही हमारा धर्म है, निस्सहाय के लिए लड़ना हमारा कर्तव्य है. हम हर घड़ी हर क्षण हर परिस्थिति में आप लोगों के साथ हम आपकी मदद करेंगे. हमें लक्ष्मण साह को बचाने के लिए जो कुछ भी करना पड़ेगा मैं करने के लिए तैयार हूँ.

दूसरी तरफ आरोप के मुताबिक विधायक निरंजन मेहता की गाड़ी से ठोकर लगने के बाद इस हालत तक लक्ष्मण के पहुँचने के बाद भी विधायक का मदद के लिए खुलकर सामने नहीं आने से लोगों में विधायक के प्रति नाराजगी देखी जा रही है. 

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...