24 अप्रैल 2017

मधेपुरा: इंदिरा आवास राशि लेकर घर नहीं बनाया तो जाइए थाना

मधेपुरा के जिलाधिकारी मु सोहैल ने सोमवार को विभागीय समीक्षात्मक बैठक में निर्देश दिया है कि जिन लाभार्थियों ने राशि लेकर इंदिरा आवास नहीं बनाया हो तो होम गार्ड को भेजकर उन्हें थाने में बुलाइए।
ऐसे लोगों के लिए यह अंतिम सूचना होगी और फिर भी आवास नहीं बनाते हैं तो कानूनी कार्रवाई होगी।

बैठक में श्रम अधीक्षक को निर्देशित किया गया कि मधेपुरा, सिंहेश्वर, बिहारीगंज और मुरलीगंज में जितनी भी दुकानें हैं उनका सर्वेक्षण कर उनका पंजीकरण करने के निर्देश पूर्व में ही जारी है। इसका प्रतिवेदन शीघ्र दें। इसके साथ ही यह भी निर्देश दिया गया कि सड़क निर्माण में लगे मजदूरों को पेयजल सहित अन्य सुविधा कार्य स्थल पर उपलब्ध कराने के लिए प्राक्कलन में ही लगभग दस प्रतिशत राशि का प्रावधान होता है। लेकिन कार्य स्थल पर क्या ये सुविधाएं मजदूरों को उपलब्ध कराई जा रही है, इसका सर्वेक्षण कर प्रतिवेदित करें। सभी अंचलाधिकारी अपने अपने क्षेत्रधिकार में स्थित ईंट चिमनी का बार बार निरीक्षण कर वहां अनुज्ञप्ति, उत्पादन और मजदूरी और उपलब्ध सुविधाओं की रिपोर्ट करें। इसके साथ ही सभी अंचल में शिविर आयोजित कर मजदूरों का पंजीकरण करने का भी आदेश उन्हें दिया गया।

 बैठक में प्रधान मंत्री द्वारा निजी और सरकारी सभी डॉक्टर द्वारा जेनेरिक दवा लिखे जाने के आदेश की बावत सिविल सर्जन और औषधि निरीक्षक से विमर्श  कर इसके लिए सरकारी अस्पताल में जेनेरिक दवा बेचने की प्रक्रिया शुरू करने जा निर्देश दिया गया।
          प्रखंडों के प्रतिनियुक्त प्रभारी वरीय उप समाहर्ताओं को निर्देश दिया गया कि वे प्रत्येक माह के दूसरे और चौथे शनिवार को प्रखंड में जाकर सभी योजनाओं और कार्यों की समीक्षा करें और रिपोर्ट करें।बैठक में सभी विभागों  के पदाधिकारी उपस्थित थे. 

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...