15 अप्रैल 2017

कबीर मठ की भूमि को बेच रहे हैं मठाधीश, शुरू हुई कार्रवाई

मधेपुरा जिले के घैलाढ प्रखंड के भान टेकठी स्थित कबीर मठ की भूमि को उसके महंथ द्वारा ही अनाधिकार बेचे जाने का विरोध कर रहे दो गरीब ग्रामीणों की कोशिश रंग लाई और न सिर्फ धार्मिक न्यास बोर्ड बल्कि जिला प्रशासन ने भी संज्ञान लेकर महंथ को नोटिस जारी किया है।


दो गरीब ग्रामीणों ने किया विरोध तो शुरू हुई कार्रवाई: इस गाँव के दो लोग अशोक राम और मोहन पासवान बताते हैं कि हमें तीन चार वर्षों से यह जानकारी मिल रही थी कि महंथ जागेश्वर दास मठ की भूमि को अनाधिकार बेच रहा है। लेकिन कोई सबूत नहीं मिल तह था। हमलोग प्रशासन को आवेदन भी देते थे तो कोई कार्रवाई नहीं होती थी। तभी हमलोगों को पता चला कि यह मठ बिहार राज्य धार्मिक न्यास बोर्ड के तहत आता है। फिर हमलोगों ने वहां जाकर आवेदन दिया तो महंथ को नोटिस जारी हुआ। लेकिन महंथ  ने कोई जवाब नहीं देकर चुप्पी साध ली। फिर आवेदन दिया तो बोर्ड ने जिला प्रशासन को कारवाई का निर्देश दिया। जिला प्रशासन ने अवर निबंधक ,निबंधन कार्यालय से रिपोर्ट माँगा। रिपोर्ट दिया गया कि महंथ ने पांच दस्तावेजो के जरिये 18 कट्ठा 14 धुर भूमि को अलग अलग लोगो को बिक्री किया है।
              इस जानकारी के बाद अब अपर समाहर्ता ने महंथ जुगेश्वर दास और चंद्रदेव दास को नोटिस दिया है कि उक्त भूमि धार्मिक न्यास बोर्ड की है जिसकी बिक्री का अधिकार महंथ को नहीं है। अतः खेसरा न0 7099,7113 एवं 5537 की बेचीं गयी भूमि अगर आपकी है तो सम्बंधित साक्ष्य के साथ अपर समाहर्ता के न्यायालय में 18 अप्रेल को उपस्थित होकर साक्ष्य प्रस्तुत करें। इसके कारण अब उक्त भूमि खरीदनेवाले लोग आक्रोशित हैं । कहते हैं, वे हमलोगों को लगातार हानि पहुँचाने की साजिश करने लगे हैं। विवश होकर हमलोगों  ने मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी के न्यायलय में  सनहा दर्ज करवाया है।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...