01 अप्रैल 2017

बेउर जेल में बंद सांसद पप्पू यादव को कोर्ट में हथकड़ी लगाए जाने पर भड़के जाप नेता

पटना। 27 मार्च को पप्‍पू यादव की पार्टी जन अधिकार पार्टी (लो) के विधान सभा घेराव को लेकर हुई झड़प में पुलिस ने जाप कार्यकर्ताओं पर लाठियां बरसाई और आंसू गैस के गोले दागे थे.
इस दौरान बताया गया कि सांसद पप्‍पू यादव की पिटाई भी हो गई थी.
गिरफ्तारी के बाद पप्‍पू यादव को न्‍यायिक हिरासत में बेऊर जेल भेज दिया गया था . सांसद होने के कारण जेल में पप्‍पू उच्‍च श्रेणी के विचाराधीन बंदी हैं . इस कारण उन्‍हें कई सुविधाएं प्राप्‍त हैं. बताया गया कि आज शनिवार को उन्‍हें अदालत में पेश करने को कोर्ट लाया गया था जहाँ वाहन से नीचे उतरते ही सांसद पप्पू यादव को हथकड़ी पहना दी गई. पुलिस की इस कार्रवाई को देख कोर्ट परिसर में जमा पप्‍पू की पार्टी के लोगों में गुस्‍सा भड़क गया .
     हथकड़ी लगाये ही पप्‍पू यादव को अदालत में पेश किया गया. बताया गया कि कोर्ट ने माना कि पप्‍पू यादव को हथकड़ी नहीं लगाई जा सकती. पप्‍पू की ओर से कोर्ट को इस आशय का आदेश जारी करने का अनुरोध कर दिया गया. कोर्ट के समक्ष पप्‍पू ने अपनी बातें रखीं. कहा, उन्‍हें जान से मारने की साजिश थी. उन्‍होंने कोई अपराध नहीं किया है. वे लोकतांत्रिक तरीके से संघर्ष के रास्‍ते थे. जनता के मुद्दे पर आंदोलन कर रहे हैं. कोर्ट ने पप्‍पू यादव की ओर से दायर जमानत याचिका पर केस डायरी की मांग की है .
दोपहर डेढ़ बजे के करीब पप्‍पू यादव कोर्ट से जेल के लिए निकल पड़े . इधर हथकड़ी लगाये जाने की सूचना पर जन अधिकार पार्टी (लो) के नेता भड़क उठे हैं. पार्टी के प्रदेश अध्‍यक्ष भगवान सिंह कुशवाहा ,अखलाक अहमद,रघुपति प्रसाद सिंह ,प्रेमचंद्र सिंह आदि ने कहा है कि सरकार की नीयत में खोट है. हथकड़ी नियमों को ताक पर रखकर पहनाया गया. पप्‍पू यादव बिहार की लड़ाई लड़ रहे हैं . पांच बार सांसद रहे हैं . अब भी हैं. भागने वाले नहीं थे. फिर हथकड़ी क्‍यों, साफ है कि सब कुछ सरकार के इशारे पर हो रहा है . पप्‍पू यादव को खत्‍म कर बिहार में जनांदोलन को खत्‍म करने की कोशिश की जा रही है. लेकिन यह होगा नहीं. जाप ने पप्‍पू की कानूनी लड़ार्ड लड़ने और बिहार में आंदोलन जारी रखने का एलान किया है .
(ए. सं.)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...