23 अप्रैल 2017

अपराधग्रस्त दियारा के इलाके में पुलिस का बड़ा फ्लैग मार्च

मधेपुरा जिले के आलमनगर थाना क्षेत्र के दियरा इलाका जो खगड़िया, भागलपुर एवं सहरसा जिला सीमा पर अवस्थित है, खासकर इस क्षेत्र में मक्के की फसल के समय इस क्षेत्रों में बड़े पैमाने पर भागलपुर, खगड़िया जिला के अपराधियों का बसेरा बन जाता है.
और ये अपराधी बड़े-बड़े घटना को अंजाम देकर बड़े असानी से मक्के का फायदा उठाकर भागने में सफल हो जाते हैं. वहीं किसानों से लेवी वसूलना और जबरन खेत में फसल लगाने के दौरान आपसी खूनी संघर्ष होता रहता है । इसी को लेकर पुलिस पहले से ही सर्तक एवं मुश्तैद होकर किसानों को सुरक्षा प्रदान करने के लिए इस क्षेत्र में लगातार फ्लैग मार्च कर अपराधियों में खोफ अपना दिखा रही है ।
    इसी कड़ी में रविवार को पुलिस ने फ्लैग मार्च निकालकर लोगों में विश्वास जगाया. रविवार को आलमनगर थाना क्षेत्र के रतवारा ओपी के दर्जनों गाँव के लोगों में पुलिस पर विश्वास जगाने एवं अपराधियों में भय कायम रखने के लिए अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी के नेतृत्व में रतवारा ओपी क्षेत्र के सोनामुखी, मुरौत, रतवारा, सुखाड़ घाट, छतौना, गंगापुर, डाक्टर टोला, लुटना टोला चैवटिया, कचहरीटोला, गौंछी डीह, मरवाड़ी वासा, हड़जौरा घाट, दियरा, कुम्हरा वासा, कपसीया, ललीया, चौरली वासा, सहित दो दर्जन से अधिक गाँव होते हुए लगभग 15 किलोमीटर दूरी तक  फ्लैग मार्च निकाला.
     इस दौरान एसडीपीओ उदाकिशुनगंज अरूण दुबे ने ग्रामीणों को  को कहा कि आपकी सुरक्षा सुनिश्चित करना हमारा दायित्व है और प्रशासन अपने दायित्व को लेकर सजग है. इसलिए लगातार दियरा क्षेत्र में फ्लैग मार्च किया जा रहा है. परन्तु आप का जो दायित्व है उसे भी ख्याल रखें और पुलिस का मदद करने का काम करें. उन्होने कहा कि आप आश्वस्त रहें कि आप की सूचना लीक नहीं होगी. अगर इस दियरा क्षेत्र में एक भी अनजान व्यक्ति नजर आये या आपको शक हो कि यह अपराधी छवि का व्यक्ति है तो आप पुलिस को सूचना देने का काम करें. पुलिस आपकी सूचना को गंभीरता से लेते हुए इस सूचना को गुप्त रखते हुए त्वरित कारवाई करेगी । वहीं पुलिस निरिक्षक सुरेश राम ने फ्लैग मार्च के बाद आलमनगर थाना परिसर में सभी पुलिस पदाधिकारी को संबोधित करते हुए कहा कि क्षेत्र में मक्के की फसल अच्छी होने के कारण अपराधी उसका फायदा न उठाय इसके लिए समय-समय पर मोटर साईकिल से उन क्षेत्रों में गश्त लगाते रहें और उन क्षेत्रों को भी चिन्हित करें जहाँ अपराधियों द्वारा शरण लेने की उम्मीद हो.
    इस दौरान अनुमंडल पुलिस निरिक्षिक सुरेश राम, आलमनगर थाना अध्यक्ष सुनील कुमार, रतवारा ओपी अध्यक्ष उमेश पासवान, फुलौत ओपीअध्यक्ष राजेश कुमार, उदाकिशुनगंज पुलिस पदाधिकारी एवं पुरैनी पुलिस पदाधिकारी के साथ-साथ सभी थानों में तैनात पुलिस पदाधिकारी पुलिस बल के साथ फ्लैग मार्च में भाग लिया. 
(रिपोर्ट: प्रेरणा किरण)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...