26 अप्रैल 2017

इलाज में लापरवाही से महिला की मौत, मधेपुरा के साहुगढ़ का था ग्रामीण चिकित्सक

सुपौल जिले के छातापुर थानान्तर्गत राजेश्वरी ओपी क्षेत्र स्थित बैरिया में ग्रामीण चिकित्सक की लापरवाही ने एक महिला की जान ले ली. ग्रामीण चिकित्सक मधेपुरा जिले का है.
ग्रामीण चिकित्सक द्वारा गलत दवा व इंजेक्शन देकर उपचार करने के बाद गंभीर हो चुकी महिला को आनन फानन में कोरियापट्टी अस्पताल ले जाया गया, परंतु महिला की लगातार बिगड़ रही स्थिति को देखकर मायके वाले उसे सुपौल ले गये, परंतु चिकित्सक की सलाह पर सुपौल से सहरसा ले जाने के दौरान महिला ने दम तोड़ दिया.
     घटना के बाद से आरोपी ग्रामीण चिकित्सक गांव से फरार हो गये हैं. इधर मृतका का शव गांव लाये जाने के बाद समाज के तथाकथित ठीकेदारों ने मामले को रफा दफा कर दिया और पुलिस को सूचना दिये बगैर ही आनन फानन में शव का दाह संस्कार कर दिया गया. ओपी पुलिस ने पुछने पर कहा कि मामले की जानकारी मिली थी परंतु किसी भी पक्ष द्वारा अबतक कोई लिखित शिकायत दर्ज नहीं कराया गया है.
       जानकारी अनुसार राजेश्वरी पश्चिम वार्ड नंबर दो निवासी ललित मंडल पिता बौकू मंडल की 30 वर्षीया पत्नी रूना देवी की लिकोरिया से पीड़ित रहने के कारण उसकी तबियत खराब थी. उपचार के लिए ग्रामीण चिकित्सक को बुलाया गया. मधेपुरा के साहुगढ़ निवासी ग्रामीण चिकित्सक महिला के घर पहुंचे और गलत दवा व इंजेक्शन देकर उपचार करने करने लगा. मृतका की बहन पूजा देवी व भाई उपेंद्र मंडल साकिन महेशपुर ने बताया कि उनकी बहन को कोरियापट्टी अस्पताल में भर्ती कर ग्रामीण चिकित्सक फरार हो गये हैं. कोरियापट्टी से उसे सुपौल के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया,जहाँ मौजूद चिकित्सक ने ग्रामीण चिकित्सक की लापरवाही से उनकी बहन का दोनों किडनी और पेशाब का थैला फेल हो जाने की बात कही, डाक्टर ने स्पष्ट रूप से कहा कि बीमारी के अनुरूप दवा नहीं देकर उसका गलत उपचार किया गया है, जिसका नतीजा है कि मरीज के बचने की उम्मीद बहुत कम है, हालाकि मरीज उपचार के लिए सहरसा ले जाया जा रहा था, लेकिन महिला ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया. बताया कि महिला की स्थिति बिगड़ने के बाद से ही ग्रामीण चिकित्सक फरार हो गया है, मधेपुरा के साहुगढ़ निवासी फरार ग्रामीण चिकित्सक बैरिया में ही अपने किसी रिस्तेदार के यहाँ एक माह से रह रहा था और ग्रामीण क्षेत्रों में घूमघूमकर लोगों के उपचार का काम करता था.
    घटना के बावत पूछने पर ओपी प्रभारी विमल कुमार मंडल ने बताया कि मामले को लेकर किसी भी पक्ष के द्वारा लिखित शिकायत दर्ज नही कराया गया है, शिकायत प्राप्त होने पर आवश्यक कार्यवाही की जाएगी.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...