21 अप्रैल 2017

मधेपुरा में सिविल सेवा दिवस पर डीएम ने दी सुशासन की नसीहत


समाहरणालय सभागार में  शुक्रवार को सिविल सेवा दिवस का आयोजन कर जिलाधिकारी मु सोहैल ने अंतरात्मा की आवाज पर राष्ट्रहित और विकास के कार्यों में एकजुट प्रयास का आह्वान किया।

उन्होंने कहा कि प्रशासन में बैठे पदाधिकारियों को यह पुनीत कर्तव्य बनता है कि वे अपनी सेवा काल में कभी गलत मंशा से काम को अंजाम न दें।गलत मंशा से किए गए कार्य का गलत अंजाम ही होता है।
              उन्होंने कहा कि कई बार निर्णय लेने में संशय होती है।लेकिन ऐसी स्थिति में अंतरात्मा की आवाज जरूर सुननी चाहिए।अंतरात्मा सदैव समाज के सबसे अंतिम पायदान पर बैठे लोगों के नियमानुकूल पक्ष में ही काम करने को प्रेरित करता है।
              इस अवसर पर सबसे पहले दिल्ली में आयोजित सिविल सेवा दिवस समारोह में प्रधान मंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के संबोधन को टेलीकास्ट कर सुनाया गया। उन्होंने भी सिविल सेवा के पदाधिकारियों से देश के विकास हेतु तत्परता से काम करने की सलाह दी।
             इस अवसर पर आरक्षी अधीक्षक विकास कुमार सहित अन्य अधिकारी व कर्मी उपस्थित थे।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...