02 अप्रैल 2017

'बच्चों की पहली शिक्षिका उसकी माँ होती है और पहली पाठशाला उसका घर': प्रमिला

बच्चों की पहली शिक्षिका उसकी माँ होती है और पहली पाठशाला उसका घर होता है। बच्चो के विद्यालय का प्रमुख उद्देश्य बच्चों का सर्वांगीण विकास करना है।
इसके लिए सबको मिलकर एक मिशन के रूप में काम करना होगा।
              यहाँ शहर के वार्ड न0 छह में स्थित मॉडर्न अकैडमी के वार्षिकोत्सव का उद्घाटन करते हुए उक्त बातें महिला थानाध्यक्ष प्रमिला कुमारी ने कही। उन्होंने इस प्रतियोगी युग में बेहतर शिक्षा के लिए सबको मिलकर प्रयास करने का आग्रह किया।
          वार्षिकोत्सव के अवसर पर शहर की सुरक्षा में सतत सन्नद्ध बिपिन कमांडो और उनकी टीम के सभी सदस्यों को सम्मानित किया गया। इस अवसर पर महिला पुलिस पदाधिकारी आरती कुमारी, सिकंदर पोद्दार, प्रो नारायण यादव, चिरामनि प्र यादव, निदेशक शम्भू आर्य तथा प्रधानाध्यापिका सुषमा कुमारी आदि ने भी संबोधित किये। बाद में विद्यालय के बच्चों ने रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम पेश किये। मंच संचालन शिवानी और वकील वाका ने किया।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...