22 मार्च 2017

मधेपुरा: 2 सौ बच्चों को दी गई टीबी की विस्तृत जानकारी, करेंगे लोगों को जागरूक

मधेपुरा जिले के सिंहेश्वर अक्षय परियोजना एवं जिला यक्ष्मा केंद्र के द्वारा सिंहेश्वर के प्रोजेक्ट बालिका उच्च विद्यालय के 2 सौ बच्चों को टीबी (टयुबरकुलोसिस) से सजग रहने के लिए टीबी की विस्तृत जानकारी दी ।

    बच्चे इसे ठीक से समझ सके इसके लिए क्यूज प्रतियोगिता का भी आयोजन इन बच्चों के बीच किया गया।  जिसकी अध्यक्षता विद्यालय के प्रधानाध्यापक  यतीन्द्र कुमार ने कहा इस तरह के आयोजन से बच्चो में बीमारियों से बचने की समझ विकसित होगी । जिससे हमारा समाज भी लाभान्वित होगा । परियोजना के जिला समन्यक  कमलेश कुमार ने बताया कि अक्षय परियोजना के तहत  पूरे देश में 374 जिले में यह कार्यक्रम चल रहा है और मधेपुरा जिला में 2010 से टीबी सम्बंधित जागरुकता का कार्यक्रम जिला यक्ष्मा केंद्र के सहयोग से ही  किया जा रहा है । उन्होंने बताया कि टीबी एक भयावह और संक्रामक बीमारी है । जो एक से व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में  हवा के माध्यम से फैलती है । जल्द ही स्वस्थ लोगों को अपना शिकार बना लेता है । इसका ईलाज अब पुरी तरह संभव है  इसका मुख्य लक्षण एक पखवारा  या उससे अधिक दिनों से लगातार खासी आना, शाम के समय शरीर का गर्म रहना, मुंह से बलगम का निकलना, मुंह से खून के थक्के आना, सीने में भारीपन व दर्द का रहना, बार बार सर्दी होना, रूई पाट धूल का फेफडे में प्रवेश करना, बहुत ज्यादा धातुक्षय, शराब पीने और रात्रि जागरण से होती है तथा इसका जाँच व् ईलाज सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंन्द्रों निशुल्क उपलब्ध है ।
     उन्होंने बताया कि परियोजना के द्वारा जिले के पांच प्रखंडो टीबी का कार्यक्रम जैसे- सामुदायिक बैठक, अक्षय संवाद, नुक्कड़ नाटक, बलगम कैम्प के माध्यम से टीबी मरीजों का नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्रों में जाँच कराकर उनका ईलाज कराया जाता है.
    कार्यक्रम के दौरान जिला यक्ष्मा सुपरवाइजर नसीम अहमद ने बताया की टीबी एक संक्रामक बीमारी है । यह बीमारी किसी भी वर्ग के लोगो में हो सकता है इसके लिए पूरे जिले में हमारा 16 जगहो पर टीबी का जाँच व् इलाज बिलकुल मुफ्त किया जा रहा है । क्विज  प्रतियोगिता में प्रथम पुरस्कार साहिना कुमारी एवं दूसरा पुरस्कार खुशबू कुमारी तीसरा पुरस्कार ऋचा कुमारी को मिला । जिसे डिक्शनरी से पुरस्कृत किया गया.
    इस अवसर पर यक्ष्मा सुपरवाइजर गौतम कुमार, लैब तकनीशियन संजय सज्जन प्रोजेक्ट बालिका उच्च विद्यालय के अध्यापक विनोद कुमार सिंह, किशोरी कुमार, दिलीप कुमार, गौरी कुमारी, नूतन कुमारी,  लीला कुमारी,  वंदना कुमारी, रूबी कुमारी, बबिता कुमारी, साधना कुमारी, सजिता कुमारी, इत्यादि छात्राए उपस्थित रही.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...