08 मार्च 2017

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर सिंहेश्वर में कार्यक्रमों और आयोजनों की भरमार

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर बुधवार को प्रखंड परियोजना क्रियान्वयन इकाई,  सिंहेश्वर के प्रांगण में विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का उद्देश्य संगोष्ठी सह सम्मान समारोह एवं महिला सशक्तिकरण में सिंहेश्वर जीविका की भूमिका के  परिप्रेक्ष में था।

    कार्यक्रम का उद्घाटन आयोजन के मुख्य अतिथि एसबीआई के क्षेत्रीय प्रबंधक मदन मोहन बरियार एवं कंसल्टेंट बैंक, जीविका रवि शंकर सिंह ने सयुंक्त रूप से किया। भारतीय स्टेट बैंक ने 137 समूहों का वित्त पोषण के लिए  एक करोड़ दो लाख बीस हजार रुपये का चेक  समूह को दिया ।अपने संबोधन में  श्री बरियार ने जीविका की प्रशंसा करते हुए कहा कि जीविका ने ग्रामीण क्षेत्र की गरीब महिलाओं के जीवन में क्रांतिकारी परिवर्तन लाया है। उन्होंने कहा कि जीविका द्वारा महिलाओं के जीवन शैली में बदलाव के लिए बैंकों के साथ जुड़ाव, संपूर्ण वित्तीय समावेशन, आजीविका संवर्द्धन, हस्ताक्षर साक्षर अभियान के साथ-साथ खुले में शौच से मुक्ति एवं मद्य निषेध अभियान आदि गतिविधियां काफी प्रशंसनीय है। अतिथियों ने सामाजिक कुरीतियों को दूर करने में भी जीविका की भूमिका को रेखांकित किया। उन्होंने कहा जीविका के दीदी नाम ही हमारे योजना को पारिवारिक रूप देता है ।
     सिंहेश्वर में जीविका के बढते कदम की सराहना करते हुए कहा कि आज एक करोड दो लाख बीस हजार दिया गया है । उम्मीद करता हूँ , अगले महिला दिवस पर 20 करोड दिया जा सके । इस अवसर पर जीविका के बैक कंसल्टेंट रवि शंकर सिंह ने कहा हमारी दीदीया लक्ष्मी, सरस्वती, दुर्गा का रूप है । बीपीएम सुबीत कुमार ने कहा हमे इस काम में इन दीदीयों से प्रेरणा मिलती है । यहाँ हम जो करते हैं वह हमे दिखाई देता है । उससे हमरा उत्साह बढता है ।
    इस अवसर पर शाखा प्रबंधक लालपुर भगवान् दास ,सुखासन, मनीष कुमार सिंहेश्वर संजीव रंजन दास, डंडारी अभय कुमार सिंह, जीविका दीदीयों ने जीविका के साथ जुड़ने के बाद उनके जीवन में आये परिवर्तन को साझा किया। स्वागत भाषण प्रखंड परियोजना प्रबंधक सुबित कुमार ने दिया। क्षेत्रीय समन्वयक प्रकाश कुमार ने सिंहेश्वर में जीविका की गतिविधियों पर विस्तार से प्रकाश डाला। 
   मंच संचालन करते हुए सामुदायिक समन्वयक नविता कुमारी ने कहा सिंहेशवर को बाबा भोलेनाथ की नगरी के रूप में ख्याति प्राप्त है । वह दिन दूर नहीं जब सिंहेश्वर को जीविका के लिए जाना जायेगा । उन्होंने जीविका के बढते कदम की चर्चा करते हुए कहा 1324 एसएचजी है जिसमें 669 बीओ, 113 सीएम, चार बैक के आठ शाखाओं में 1080 खाता,  962 का बैंक लिंकेज के 6 करोड 15 लाख, 25 है । वही जीविका के 2 करोड 29 लाख 80 हजार दिया है । इस अवसर पर परियोजना द्वारा विभिन्न क्षेत्रों में बेहतर कार्य करने वाले कैडर, दीदी, ग्राम संगठन को सम्मानित किया गया । दिव्या कुमारी समन्वयक लोहिया स्वच्छता, मनीष कुमार मुन्ना, सूक्ष्म प्रबंधक, सामुदायिक समन्वयक ज्योति कुमारी, श्वेता स्वराज , कुमारी अनामिका, ममता कुमारी , मुन्नी कुमारी एवं सामुदायिक उत्प्रेरक सहित बड़ी संख्या में जीविका दीदी उपस्थित थीं। 

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...