01 फ़रवरी 2017

डॉक्टर के खिलाफ सुलगा पुरैनी, आक्रोश मोर्चा के बैनर तले निकला मशाल जुलूस

मधेपुरा जिले का पुरैनी प्रखंड मुख्यालय आज एक डॉक्टर के खिलाफ फिर से सुलग गया जब एक महिला पञ्च की ऑपरेशन के बाद मौत का जिम्मेवार लोगों ने डॉक्टर को ठहराया था.

    बीते शनिवार को मुख्यालय पंचायत के ग्राम कचहरी के पंच रीता देवी की मृत्यु के उपरांत परिजनो द्वारा पीएचसी पुरैनी के चिकित्सा प्रभारी अजय कुमार सिन्हा पर आरोप लगाते हुए किये गये हंगामे के पश्चात पुरैनी थाना मे दर्ज कराये गये  प्राथमिकी के उपरांत एक दैनिक समाचार पत्र मे चिकित्सा प्रभारी द्वारा दिये गये  यह बयान की  पंच रीता देवी का कोई आपरेशन मेरे द्वारा नही किया गया है से परिजन सहित ग्रामीणो का आक्रोश पुनः भड़क गया है। मामले को लेकर आज ग्रामीणो ने एक आक्रोश मोर्चा के बैनर तले मशाल जुलूस निकाला और बाजार के मुख्य सड़क से गुजरते हुए चिकित्सक के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए चिकित्सक की गिरफ्तारी और पीड़िता के आश्रित को मुआवजा देने मांग  की । मशाल जुलूस मुख्यालय के डुमरैल बस स्टैंड चौक पर आकर समाप्त हुई ।
      मौके पर मृतका के पति मंटू साह, ग्राम कचहरी पुरैनी के सरपंच उमेश सहनी, आलोक राज, जाप युवाधयक्ष गौरव राय, दिनेश पंडित, गणेशपुर पंचायत के मुखिया मो वाजिद, रमण झा, जाप अधयक्ष मो सहादत, युवाशक्ति अध्यक्ष राजेश रौशन, गणेशपुर ग्राम कचहरी के सरपंच  पप्पू मिस्त्री रामचन्द्र पंडित, कुरसंडी पंचायत के उपमुखिया पमपम सिंह उर्फ रामप्रकाश सिंह, पंकज यादव, हिमांशु कुमार, विलाश शर्मा,  नारायण चौधरी, बालकृष्ण ठाकुर, अख्तर आलम,राजीव यादव, पंच विनोद सहनी, योगेन्द्र सहनी, पवन गोस्वामी, मिथिलेश यादव,  साधुशरण, पिंटू साह, पंकज पोद्दार, सिकंदर अली, सुशील साह , मनोज साह,  रितेश साह, संतोष साह,  बुलबुल साह, विजय साह, अरविंद साह,  राजेश साह, इनो साह,  उमेश सहनी , विट्टू सहनी , सहित दर्जनो अन्य शामिल थे।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...