28 फ़रवरी 2017

सिंहेश्वर महोत्सव में कलाकारों की उम्दा प्रस्तुति ने महोत्सव को बनाया यादगार

 सिंहेश्वर महोत्सव  इस वर्ष भी दर्शकों पर अपनी भव्यता की छाप छोड़ गया. महोत्सव के समापन के साथ तीन दिनों तक कई उम्दा कार्यक्रम की प्रस्तुति भी लोगों के जेहन में अबतक बाकी है.

     समापन के दिन इंडियन ऑयडल के रनअप ने ॐ शांति ॐ से सिहेशवर महोत्सव की शुरुआत किया । उनके गानो के साथ महोत्सव मे शांति फैलते चली गई     
   उसके बाद स्वर शोभिता संगीत महा विधालय के कलाकारों ने सवा 6 बजे तक दर्शकों को कूछ आकर्षक कार्यक्रम दिखाया । मुख्य रूप से हे गणनायक तेरे बिना में अभिनाष कुमार, रमेश कुमार, देवस्वी आनंद,  आंचल, जिया, यश, इशिता, स्वास्तिका, अनुप्रिया, सोनू, कोनिका, प्रज्ञा और रौनक ने प्रस्तुत किया । जबकि ओम नम: शिवाय की प्रस्तुति अनुष्का दास और रौनक राज ने किया । फ्यूजन का क्लासिक हनि, सुरभि श्रीवास्तव, कुसुम लता के बाद सवा 6 बजे से 6 बज कर 50 मिनट तक केशव त्यौहार के आने की घोषणा होती रही ।                       
    तृप्ति शक्या का इंतजार शाम के 8 बज कर 20 मिनट तक होता रहा । मजबूरी में युवा संघ के सदस्यों को बीच में ही महाशिवरात्री के अवसर पर रंग बिरंग के रूप धर कर बारात में शामिल होने के कारण दिया गया । इस मौके पर एसपी विकास कुमार और डीडीसी मिथिलेश कुमार ने युवा संघ के अध्यक्ष पंकज भगत, रोहित कुमार, मनीष कुमार को प्रशस्ति पत्र दिया । इस अवसर पर डीडीसी श्री कुमार ने माना कि हर काम में नयास काफी पिछे है । उसके बाद गणपति वंदना के साथ तृप्ति शाक्या के कार्यक्रम की शुरुआत प्रदीप शाक्या ने किया ।  तृप्ति शक्या के गीत और टीम के शानदार प्रदर्शन को भूलना सिंहेश्वर महोत्सव को देखने वालों के लिए संभव नहीं होगा.                     
       इससे पहले जहाँ मधेपुरा की उभरती गायिका श्रिमी राज तथा अन्य की प्रस्तुति काफी सराही गई वहीँ महोत्सव के दूसरे दिन कोसी की स्वर कोकिला कृतिका गौतम तथा उनके साथ की टीम की उम्दा प्रस्तुति ने लोगों को झूमने पर मजबूर कर दिया.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...