18 जनवरी 2017

जिस स्कार्पियो में भारी मात्रा में शराब मिली उसी में मानव श्रृंखला के समर्थन में पोस्टर भी

सुपौल। नशाबंदी को लेकर सूबे की सरकार कोई कसर नहीं छोड़ना चाह रही है। जागरूकता अभियान से लेकर मानव श्रृखंला की तैयारी राज्य स्तर पर जोर- शोर से की जा रही है।
इसमें शासन-प्रशासन के लोग सहित जनप्रतिनिधि भी अपनी- अपनी महती भूमिका निभाने की तैयारी में रात- दिन एक किये हुए हैं। लेकिन सीमावर्ती इलाके में सक्रिय नशे के सौदागार है कि मानता नहीं उन्हें तो बस  नशे की सौदा कर अपनी शान और शौकत की जिंदगी की चिंता सता रही है।
जानकारी के अनुसार मंगलवार को इंडो- नेपाल की सीमा से एसएसबी और वीरपुर पुलिस ने शराब और गांजा की एक बड़ी खेप बरामद की है।
एसएसबी ने इंडो- नेपाल सीमा से सटे कोचगामा पंचायत के वार्ड नंबर 05 स्थित भगवानपुर गांव से 1264 बोतल नेपाल निर्मित देशी शराब और लगभग 12 किलोग्राम गांजा के साथ उपयोगी स्कार्पियो को जब्त किया है।
आशंका जाहिर की जा रही है कि इस धंधे में सफेदपोश की सक्रियता से इंकार नहीं किया जा सकता है। हैरान करने वाली बात है कि उपयोगी वाहन के तलाशी के क्रम में वाहन से मानव श्रृखंला की तैयारी का मानचित्र और मानव श्रृखंला की सफलता के लिए जारी प्रधान सचिव अंजनी कुमार सिंह का पत्र भी बरामद किया गया है।
एसएसबी 45 वीं बटालियन के सेनानायक राम अवतार भालोठिया ने बताया कि गुप्त सूचना के आधार पर नाका पार्टी पहले से लगी थी।जब गाडी पहुंची तो जवानों को देखकर और तेज हो गयी और आगे चलकर दुर्घटनाग्रस्त हो गयी, वैसे हमारे जवान आगे भी तैनात थे। श्वेत रंग की जब्त की गयी स्कार्पियो का चालक मौके से फरार हो चला लेकिन गाडी में 1264 बोतलें नेपाल निर्मित देशी शराब, लगभग 12 किलोग्राम गांजा को जवानों ने गाड़ी समेत जब्त कर लिया। वाहन से नशाबंदी के समर्थन में कई अहम दस्तावेज भी बरामद की गयी है। एसएसबी और वीरपुर पुलिस मामले की गहराई से छानबीन में जुटी है।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...