25 जनवरी 2017

शराबबंदी की खुन्नस में महिला पंचायत समिति सदस्या पर आदिवासी द्वारा जानलेवा हमला




मधेपुरा जिला के मुरलीगंज प्रखंड अंतर्गत बघिनिया पंचायत के पंचायत समिति सदस्य कंचन कुमारी के साथ आदिवासी एवं ऋषिदेव लोगों द्वारा मारपीट की गई.

  आदिवासियों द्वारा मारपीट किए जाने पर कंचन कुमारी की स्थिति काफी बिगड़ती चली गई. वह नवनिर्वाचित  और साथ ही साथ 5 दिसंबर को जन्म दिये नवजात बच्चे की मां भी है. इस विषय पर जानकारी देते हुए पीड़िता के पति कृष्ण कुमार रजक ने बताया कि पिछले दिनों बघिनिया पंचायत में 22 दिसम्बर को उत्पाद विभाग और  मुरलीगंज थाना द्वारा शराबबंदी को लेकर छापामारी की गई थी, जिसके कारण वहां के कुछ आदिवासी और ऋषिदेव  समुदाय के  लोगों  ने आज यह आरोप लगाकर मेरी पत्नी के साथ मारपीट किया कि तुम ही लोग फोन कर पुलिस और उत्पाद विभाग को बुलाते हो. आगे कृष्ण कुमार  रजक बताते हैं कि हमने इन लोगों के द्वारा दिए गए धमकी पर थाने में भी आवेदन दिया था पर कोई कार्रवाई मुरलीगंज थाना द्वारा इस दिशा में नहीं की गई. जिसके कारण उन लोगों का मनोबल बढ़ता गया और आज मेरी पत्नी को मार-मार कर अधमरा कर दिया है. साथ ही साथ कंचन कुमारी की मां मीना देवी  को भी उन लोगों ने पीटा.
       कंचन देवी  के पति कृष्ण कुमार रजक ने कुछ लोगों के नाम बताएं हैं जिन लोगों ने उन्हें मारा. उनके नाम है सुरेंद्र ऋषिदेव सुरेंद्र, श्री देव की पत्नी व उनके दामाद, उर्मिला देवी, रोहित कुमार, राजीव कुमार, भैरव लाल, सूरज की पत्नी, बबीता कुमारी का पति आदि.                        
    घटनास्थल से मैंने उसे उठाकर मुरलीगंज अस्पताल लाया जहां से डॉक्टरों ने उसे मधेपुरा सदर अस्पताल के लिए रेफर कर दिया. मौके पर पहुंचे प्रखंड विकास पदाधिकारी अनुरंजन कुमार ने कहा कि जिन लोगों ने मारपीट किया है उनके साथ सख्त कारवाई की जानी चाहिए. मौके पर अस्पताल पहुँचे स अ नि रामचंद्र प्रसाद ने  बताया कि प्राथमिकी दर्ज कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. 

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...