04 जनवरी 2017

‘बिहार के कई डीएम और बड़े-बड़े अधिकारी समेत नेताओं के पास है अकूत बेनामी संपति’

मधेपुरा के सांसद और जन अधिकार पार्टी के संरक्षक राजेश रंजन उर्फ़ पप्पू यादव ने कहा कि बिहार के कई डीएम और बड़े-बड़े अधिकारी समेत नेताओं के पास अकूत बेनामी संपत्ति है.

    मुख्यमंत्री नीतीश कुमार समेत सुप्रीम कोर्ट को जनधिकार पार्टी सौंपेगी एक रिपोर्ट. मधेपुरा के अतिथिगृह में मीडियाकर्मियों से सांसद ने कहा कि जनधिकार पार्टी का एक ही अभियान है कि बेनामी संपति को छीनकर ग़रीबों के बीच बांटेगी पार्टी. उन्होंने कहा कि पटना और दानापुर बिहटा के बीच कई नेताओं की अकूत संपत्ति, मॉल होटल के अलावे कई बड़े-बड़े स्कूल हैं. सांसद ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मांग की है कि जल्द जाँच कर सरकार इन अधिकारी और नेताओं के बेनामी संपति जप्त करने की कार्यवाही करे. सांसद ने यह भी कहा कि अगर सरकार ने तत्काल कोई कार्रवाई की तो जनधिकार पार्टी 24 जनवरी से डेरा डालो घेरा डालो कार्यक्रम के तहत आन्दोलन करेगी और पटना से होगी इस कार्यक्रम की तैयारी दिल्ली में भी चलेगा अभियान.
    हालाँकि जनधिकार पार्टी के संयोजक सह मधेपुरा के स्थानीय सांसद पप्पू यादव ने केन्द्र की पीएम मोदी सरकार और बिहार के मुखिया नीतीश कुमार पर भी सवाल उठाए. सांसद श्री यादव ने पूछा कि क्या केन्द्र की मोदी सरकार चीफ जस्टीस के समक्ष पुराने नोटों को आग के हवाले करेगी? मैं पीएम मोदी से ये सवाल पूछना चाहता हूँ कि क्या बेनामी संपति वालों के विरुद्ध नया कानून बनेगा और यदि जांच में इन अधिकारी और नेताओं की बेनामी सम्पति पकड़ी गयी तो क्या सरकार कानून बनाकर आजीवन कारावास की सजा का प्रावधान करेंगे ?
       इस दौरान सांसद पप्पू यादव के समक्ष जनधिकार पार्टी में एक दर्जन से ज्यादा उप-मुखिया वार्ड सदस्य समेत कई कॉलेजों के दर्जनों छात्र पार्टी में शामिल हुए. इस दौरान पार्टी के अखिलेश यादव, देवाशीष पासवान, शैलेन्द्र कुमार, शिवमणि उर्फ़ प्रशांत कुमार, रूपक कुमार के अलावे बीएन मंडल विश्वविद्यालय के प्रॉक्टर बीएन विवेका, ललटू यादव, मुखिया अनिल अनल समेत पार्टी के कई बड़े छोटे कार्यकर्ता उपस्थित थे.
(रिपोर्ट: कुमार शंकर सुमन, सब-एडिटर, फोटो: मुरारी सिंह)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...