07 जनवरी 2017

पैक्स अध्यक्ष हत्याकांड: न तो राजनीतिक हत्या थी न ही चुनावी रंजिश?

मधेपुरा जिले के मुरलीगंज प्रखंड अंतर्गत गंगापुर पंचायत में पैक्स अध्यक्ष मनीष कुमार हत्याकांड पर कल दोपहर  तक आवेदन नहीं दिया गया था और रहस्य पर पर्दा पड़ा हुआ था.
मानना है कि यह न तो राजनीतिक हत्या थी न ही चुनावी रंजिश की हत्या है  कुछ और ही कारण था. पर धीरे-धीरे रहस्य पर से पर्दा उठता चला गया.
   शुक्रवार की देर शाम घटनास्थल पर जहां मनीष कुमार को दो युवकों ने गोली मारी थी, वहां घास काट रही महिला ने सिर्फ इतना बताया था कि दोनों युवक मृतक मनीष कुमार से लड्डू के बारे में पूछ रहे थे. पूछने के उपरांत ही  गोली मार दी गई. शुक्रवार की शाम घटना की तहकीकात एवं अनुसंधान के सिलसिले में जब से जब जब पुलिस  अधीक्षक मधेपुरा विकास कुमार कल शाम गंगापुर गाँव  पहुंचकर घटना की तहकीकात करने लगे उसी क्रम में उन्होंने संदेह के आधार मृतक मनीष कुमार के घर  के उत्तर की तरफ जयदेव यादव उर्फ़ प्रेम किशोर, पिता गंगा यादव को गिरफ्तार कर लिया गया और पूछताछ शुरू की गई.
      थानाध्यक्ष राजेश कुमार ने बताया कि निशांत नील उर्फ लड्डू और दूसरा जयदेव उर्फ़ प्रेम किशोर नामजद अभियुक्त तथा तीन अज्ञात के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है, जिसमें से एक जय देव को पुलिस हिरासत में लेकर पूछताछ के उपरांत जेल भेजने की कार्यवाही कर रही है. वहीँ दूसरे अभियुक्त गिरफ्तारी के हेतु भी प्रयास कर रही है. इस हत्या के रहस्य को उद्भेदन करने में पुलिस को एक बड़ी सफलता मिलती नजर आ रही है.  48 घंटे के अंदर पुलिस ने रहस्य से पर्दा उठा कर हत्या के अभियुक्तों तक पहुंचने में सफलता प्राप्त की है. यह न तो राजनीतिक हत्या थी ना ही चुनावी रंजिश का परिणाम था बल्कि आपसी दयादों के बीच भूमि विवाद के मामले से  संबंधित मामला हो सकता है. ऐसा कुछ ग्रामीण अब दबी जुबान से कहने लगे हैं. घटना के तार धीरे-धीरे जुड़ते नजर आ रहे हैं. तीन अज्ञात लोगों के निशानदेही के लिए पुलिस जी तोड़ कोशिश में लगी है.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...