30 जनवरी 2017

अबतक नोटबंदी की मार से परेशान हैं ग्रामीण, सड़क जामकर किया प्रदर्शन


नोट बंदी के मार से अभी तक मधेपुरा जिले के चौसा प्रखंड के ग्रामीण परेशान । ग्रामीणों ने सड़क जाम कर घंटो प्रदर्शन किया। बैंक मैनेजर पर लगाया  बड़े लोगों को साइड से रूपये देने का आरोप।

    आज चौसा प्रखंड मुख्यालय के एस बी आई शाखा से परेशान कई दर्जन खाताधारी उग्र हो गए. मो0 कलीम उद्दीन, निका देवी नूतन देवी मनीष देवी आदि ने अपनी अलग-अलग-अलग समस्याएं बताया. किसी ने कहा कि मेरा बच्चा बीमार है और हम 15 दिन से अपने रूपयों के लिए बैंक दौड़ रहे है. ललित देवी, मंगली देवी शूलेना देवी ने बताया की मेरी बेटी की का तिलक है. बैंक मैनेजर रुपया नहीं देता है. मीणा देवी ने बताया कि  हम ने ब्याज लेकर खेती किया है और हम अपने रूपये के लिए बैंक का चक्कर लगा रहे हैं. गरुदेव शर्मा ने बताया कि मेरे घर भगैत है और हम अपने रूपये के लिए ही परेशान हैं. मंजुला देवी, मोनी देवी, मो0 इज़हार, मो0 फिरयाद, छांगुड़ी सिंह, औरंगजेब आलम, रहिस खातुन, अंजुम खातुन आदि ने आज जमकर हंगामा किया। कहा कि ब्रांच मैनेजर हर दिन एक नया तारीख को बुलाता है और फिर कहता है कि रुपया आया ही नहीं है.
    उधर ब्रांच मैनेजर राजकुमार पोद्दार ने कहा कि मुझे ऊपर से उतना रुपया नही मिलता है, जितनी खपत है। जाहिर है ऐसे में हम कह सकते हैं कि नोटबंदी की मार अबतक गरीब लोगों पर पड़ ही रही है.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...