30 जनवरी 2017

समस्तीपुर में अधिवक्ता की हत्या पर सुलगा मधेपुरा अधिवक्ता संघ, काम-काज ठप्प


समस्तीपुर में हुई अधिवक्ता की हत्या के बाद पूरे बिहार में जहाँ इस घटना को लेकर आक्रोश है वहीँ मधेपुरा जिला अधिवक्ता संघ ने आज घटना के विरोध में खुद को न्यायिक काम-काज से अलग रखा है.

    आज सुबह से ही यहाँ अधिवक्ताओं ने आपस में एक बैठक कर यह निर्णय लिया और वे न्यायालय परिसर में दोषियों की अविलम्ब गिरफ्तारी और अधिवक्ताओं की सुरक्षा की मांग को लेकर प्रदर्शन किया. इससे पहले अधिवक्ताओं ने मृतक अधिवक्ता विजय कुमार पोद्दार की आत्मा की शान्ति के लिए दो मिनट का मौन रखा. बैठक को संबोधित करते हुए जिला अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष धीरेन्द्र झा ने कहा कि सरकार को सूबे के अधिवक्ताओं की सुरक्षा हेतु पूरा इंतजाम करना चाहिए. हम मुख्यमंत्री और संघ के प्रदेश अध्यक्ष से इस सम्बन्ध में बात करेंगे ताकि ऎसी घटनाओं की पुनरावृत्ति न हो. मौके पर वरीय अधिवक्ता जवाहर झा ने कहा कि ऐसी घटना सरकार की नाकामी को दर्शाता है इसलिए हम अधिवक्ताओं को आरपार की लड़ाई लड़नी होगी ताकि अधिवक्ता के साथ इस तरह की घटना न घटे और वे स्वतंत्र होकर काम कर सके. जिला अधिवक्ता संघ के प्रधान सचिव कृत नारायण यादव, संयुक्त सचिव सदानंद यादव तथा उपाध्यक्ष शंभू नारायण सिंह ने कहा कि जब भी किसी अधिवक्ता की हत्या होती है तो एक दिन हम आन्दोलन करते और और फिर इसे भुला देते हैं. इसी का परिणाम है कि ऐसी घटना लगातार घट रही है और प्रशासन मूक दर्शक बनी बैठी रहती है और घटना के बाद सिर्फ खानापूर्ति करती है. हमें इसके लिए चरणबद्ध लड़ाई लड़नी होगी.
    मौके पर अधिवक्ता सह राजद प्रखंड अध्यक्ष तेज नारायण यादव, वरीय अधिवक्ता ललन सिंह, ब्रजनंदन आर्य, ओमप्रकाश यादव, रंधीर कुमार सिंह, राजन सिंह, रूद्र नारायण यादव, रमेश यादव समेत सैंकड़ो अधिवक्ता मौजूद थे.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...