01 दिसंबर 2016

नोटबंदी की मार में एक एटीएम के भरोसे एक प्रखंड के 9 पंचायत की आबादी

मधेपुरा जिले में 9 पंचायत का प्रखंड मुख्यालय बाजार पुरैनी में एक मात्र सेन्ट्रल बैक ऑफ इंडिया का एटीएम नोटबंदी के बाद से लोगों की भीड़ से हांफ रहा है.
नोटबंदी के बाद पैदा हुई असामान्य स्थिति के बाद एटीएम में हमेशा भीड़ बनी रहती है, जिसकी वजह से आम लोगों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है.
      बताया गया कि स्टेट बैंक में दिन में किसी मशीन के खराब हो जाने से आम जनों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा. ग्राहक कृष्णा कुमार मेहता,अवधेश कुमार मेहता, मुकेश कुमार सहनी,अभिनंदन वर्मा, त्रिलौकी मेहरा, कुंदन मेहता, दीपक कुमार मेहता, तारा देवी, रूपम देवी आदि का कहना था कि बैंक के खुलने से पहले आज हमलोग 7:00 बजे सुबह से लाइन में खड़े हैं. आज सुबह से हमलोग भूखे प्यासे बैंक में हैं, यहाँ तक कि बाहर से पानी खरीद कर हम प्यास बुझाते रहे. अचानक बैंक की मशीन में खराबी आने पर शाखा प्रबंधक ने कहा कि अब पास बुक के जरिये निकासी होगी. इसके बाद किसी तरह अफरा तफरी से राहत मिली. डिपोजिट फॉर्म बैंक में नहीं होने के कारण खाता धारक को बाहर से 5 रुपए लगा कर फॉर्म खरीदना पड़ रहा है. पुरैनी भारतीय स्टेट बैंक की दुर्दशा यह है कि सिर्फ एक काउंटर के भरोसे चल रहा है पुरैनी का बैंक.
    ऐसे मे समाजसेवी आलोक राज, संजय सहनी, विलाश शर्मा, बुटन ठाकुर, अशोक शर्मा, मुन्ना ठाकुर सहित व्यवसायियो की मांग है कि पुरैनी मे एक एसबीआई का भी एटीएम लगाया जाय, जिससे यहाँ के लोगो की परेशानी दूर हो सके.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...