16 दिसंबर 2016

निश्चय यात्रा: मधेपुरा में सीएम ने कहा, ‘शराब छोड़ने वालों के बच्चे पहन रहे अच्छे कपड़े

सूबे में शराबबंदी लागू होने के बाद दूध, रेडिमेड कपड़ों, मिठाइयों, गुलाबजामुन, रसगुल्लों आदि तथा घरेलू अन्य सामानों की बिक्री में काफी बढ़ोतरी हुई है.
कहने का मतलब साफ़ है जिन घरों के मुखिया पहले अपनी गाढ़ी कमाई के रूपयों को शराब पीने में बर्बाद कर देते थे, उन रुपयों से वे अब अपने बच्चों को अच्छा कपड़ा खरीद कर दे रहे हैं. जिन घरों में जहां पहले मूलभूत सुविधाओं का भी अभाव था, वहां अब उन घरों में चौकी, तकिया आदि देखने को मिल रहा है.
            बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार आज सात निश्चय यात्रा के चौथे चरण में मधेपुरा जिला मुख्यालय के बीएन मंडल स्टेडियम में आयोजित चेतना सभा को संबोधित कर रहे थे। सीएम ने कहा कि हमने सर्वेक्षण करवाया है. शराबबंदी के बाद सूबे में दूध की बिक्री में 11 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है. शराब पीने वाले अब दूध पी रहे हैं, मिठाई और लस्सी की खपत
भी बढ़ गयी है. शराबबंदी  से सरकार को भले ही सालाना पांच हजार करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है पर बिहारवासियों का दस हजार करोड़ रुपये उनके पास ही रह जाएगा. मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वामी विवेकानन्द कहा करते थे कि जब भी आप कोई अच्छा काम करेंगे, विरोधी पहले मजाक उड़ाएंगे, फिर विरोध करेंगे और बाद में आपके साथ चलेंगे. 21 जनवरी को जब पूरे बिहार में दो करोड़ से अधिक लोगों के द्वारा पांच हजार किलोमीटर से अधिक लम्बी मानव श्रंखला बनेगी तो यह देश ही नहीं विश्व में एक रिकॉर्ड कायम करेगा और शराबबंदी को देश में एक नजीर की तरह पेश करेगा. मुख्यमंत्री ने कहा कि कल ही सुप्रीम कोर्ट का आदेश आया है कि देश के सभी एनएच और एसएच से शराब की दुकाने हटाऐं. शराबबंदी के बाद राज्य में सभी प्रकार के अपराधों में भारी कमी आयी है. महिलाओं की मांग पर ही शराबबंदी का फैसला लिया गया है, अब उनकी भी जिममेदारी है कि वे इस अभिायान को बरकरार रखने में सहयोग करें.
       अपने संबोधन के दौरान लोक शिकायत निवारण योजना की जानकारी आमजनों को देते हुए मंख्यमंत्री ने कहा कि आम जनता की शिकायत को दूर करने के लिए हम ने 10 सालों तक सीएम से लेकर जिला प्रखण्ड स्तर तक जनता दरबार की शुरुआत की थी, लेकिन कुछ कठिनाई भी हो रही थी. इसे दूर करने के लिए हमने लोगों को शिकायत निवारण का कानूनी अधिकार दिया. हमारा निश्चय है कि आने वाले चार सालों में गांव से लेकर शहर तक हर घर नल का शुद्ध पेयजल, खुले में शौच मुक्त गांव, बिजली, सड़क, नाली का निर्माण कार्य पूरा किया जाएगा.
       कार्यक्रम की अध्यक्षता डीएम मो0 सोहैल और धन्यवाद ज्ञापन एडीएम मो0 मुर्शीद आलम ने किया. वहीं विधायक रमेष ऋषिदेव ने मुख्यमंत्री को पाग और शॉल, विधायक निरंजन मेहता ने स्मृति चिन्ह और महागठबंधन के तीनों पार्टी के जिलाध्यक्ष ने मखाना का विशाल माला पहना कर सम्मानित किया. इसके अलावे साथ आये मंत्री और डीजीपी ने भी सभा को संबोधित किया.
सुनें सीएम ने योजनाओं के बारे में क्या कहा. यहाँ क्लिक करें. 

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...