26 दिसंबर 2016

‘क्या बिहार को पुनः जंगलराज से आंधी और बाढ़ राज बनाना चाहते हैं?’: ‘हम’ की बैठक

मधेपुरा में हिंदुस्तान आवाम मोर्चा के कार्यकर्ताओं की एक जिलास्तरीय बैठक  हुई जिसमें बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का विरोध करते हुए कहा कि नीतीश कुमार  बिहार की गरीब जनता को धोखा दे रहे हैं.

      कहा गया कि पूरे सूबे में दलित महादलित को अभी तक ना इंदिरा आवास न ही 5 डिसमिल जमीन दी गई है. दलितों को छात्रवृत्ति में भी भेदभाव बढ़ता जा रहा है. बिहार के गरीब बच्चों के उच्च शिक्षा के लिए जो सहायता राशि दी जाती है उस में भयंकर कटौती की गई है और जिन दलितों को जमीन का पर्चा दिया गया उस पर कब्ज़ा दूर दूर तक सपना जैसा दिख रहा है. बिहार के अधिकांश दलितों को सिर्फ पर्चा की बात कही जाती है. अब नए ढंग से दलित महादलित के बाद अत्यंत महादलित बनाया गया है. क्या यह बिहार में पुनः जंगलराज से आंधी और बाढ़ राज बनाना चाहते हैं?
     वहीँ अल्पसंख्यक अध्यक्ष मोहम्मद अख्तर ने कहा कि अल्पसंख्यकों को सिर्फ डराकर वोट लिया जाता है. जिला अध्यक्ष शौकत अली ने कहा कि हम अपने कर्म पर विश्वास करते हैं, जिला में पार्टी और भी मजबूत और धारदार होगा. श्री अली ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम माझी वर्तमान के अंबेडकर हैं. यह हमेशा मां मदर टेरेसा की तरह गरीबों के सेवा करते हैं.
   बैठक में महिला अध्यक्ष निधि कुमारी, प्रखंड अध्यक्ष कैलाश ऋषिदेव, विश्वनाथ चौपाल, रामचंद्र यादव, देबू ऋषिदेव, सुरेंद्र ऋषिदेव, कविता कुमारी, मंजू मुखिया, सीता देवी, पूनम ऋषि देव बेचन ऋषि देव आदि कार्यकर्ता मौजूद थे.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...