27 दिसंबर 2016

मधेपुरा: युवक के कनपटी में मारी गोली, सहरसा रेफर

मधेपुरा जिले के पुरैनी थानाक्षेत्र के सपरदह पंचायत अन्तर्गत कड़ामा गांव के 35 वर्षीय सुबोध मंडल पर सोमवार की देर शाम करीब साढे छः बजे करीब 100 मीटर की दूरी से अज्ञात अपराधियों द्वारा दो गोली मारी गयी.
जिसमें एक गोली सुबोध के कनपटी में लगी व दूसरी घटना स्थल पर जमीन में धंसी मिली. वहीं घटना स्थल से पुलिस को एक खोखा भी बरामद हुआ है. सुबोध के पिता कामेश्वर मंडल के द्वारा दिये गये आवेदन पर अज्ञात के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर पुलिस मामले की तफ्सीश में जुट गयी है. वहीं आज मंगलवार की सुबह अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी अरूण कुमार दुबे भी घटना स्थल पर पहुंचकर जायजा लिया. जबकि घायल सुबोध का ईलाज फिलहाल सहरसा में जारी है.
    घटना के बाबत मिली जानकारी के अनुसार सुबोध मजदूरी कर गांव में ही जीवन यापन करता है. उसके दो पुत्र भी हैं. सोमवार की सुबह जब वह कड़ामा चौक पर था तो इसी दौरान उसके मोबाईल पर कॉल आया और वह चौक से करीब 100 मीटर दूर एनएच 106 की ओर चला गया. कुछ देर बात खून से लथपथ सुबोध गांव के एक झोला छाप डॉक्टर के घर पहुंचा जहाँ डॉक्टर के नहीं मिलने से वो फिर काफी तेजी से उस डीलर के पास गया जहां वो काम करता था और बताया कि हमको गोली लगी है. उसके बाद वो अपने घर दौड़ता हुआ आया. उसके कनपटी में गोली लगी हुई थी और वो दर्द से कराह रहा था. परिजनों में हाहाकार मच गया. परिजनों नें जब तक उससे पूछना चाहा कि गोली किसने मारी, तब तक वो बेहोश हो चुका था. परिजनों नें आनन-फानन में उसे ऑटो में लादकर पुरैनी पीएचसी लाया और पुरैनी थाना को इसकी जानकारी दी. सुबोध को रात्रि में ही मधेपुरा सदर अस्पताल रेफर कर दिया गया. वहीं पुरैनी थानाध्यक्ष आनन फानन में घटना स्थल पर पहुंचे पर रात्रि में कुछ भी पता नहीं चल पाया. अहले सुबह जब घटना स्थल पर जांच की गयी तो झाड़ियों के बीच जमीन में धंसी गोली व एक खोखा बरामद हुआ और ढेर सारा खून भी वहीं गिरा हुआ था. फिर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी अरूण कुमार दुबे भी घटना स्थल पर पहुंचे और अपने स्तर से भी जांच शुरू की.
       ग्रामीणों की मानें तो उसकी किसी के साथ कोई दुश्मनी भी नहीं थी लेकिन ग्रामीण इस बात से आश्चर्य कर रहे हैं कि जब उसकी किसी से कोई दुश्मनी नहीं थी तो इस घटना के पीछे क्या कारण हो सकता है. कोई इसे चरित्र से जोड़ रहा है तो कोई इस बात से इनकार कर रहा है. जो भी हो अब तो सुबोध के होश में आने के बाद ही घटना की सच्चाई का पता चल पाएगा. अबतक मिली जानकारी के अनुसार सहरसा के एक प्राईवेट अस्पताल में सुबोध का सफल आपरेशन कर कनपटी के समीप फंसी गोली निकाल ली गयी है. परिजनों नें बताया कि फिलहाल वो होश में नहीं है.
      वहीं इस बाबत पुरैनी थानाध्यक्ष राजेश कुमार रंजन ने बताया कि सुबोध के पिता के द्वारा दिये गये आवेदन पर प्राथमिकी दर्ज कर छानबीन की जा रही है.  

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...