11 नवंबर 2016

दलाल सक्रिय: ग़रीबों के धन पर भी सर्जिकल स्ट्राइक!

₹ 1000 और 500 के नोटों पर रोक से से गरीब तबके के लोग ज्यादा परेशान दिख रहे हैं और उनको लग रहा है कि उनकी मेहनत की कमाई कहीं पल भर में ख़त्म ना हो जाए.
इस का फायदा अभी बैक के अगल बगल मॆ मंडराते दलाल किस्म के लोग उठाना शुरू कर दिए हैं.  ये दलाल ग़रीबों हाथों से फॉर्म बेचते हैं, और उस फॉर्म को भर भी देते हैं. चूंकि बहुत से गरीब तबके के लोगों को ठीक से लिखना-पढना नहीं आता है और इसी का फायदा इस वक़्त दलाल लोग उठा रहे हैं.
     ये दलाल फॉर्म भरने के बाद हर आदमी से पाँच रूपये ले रहे हैं और इतना ही नही उन ग़रीबों के हाथों अपने पैसा को भी बदलवाने की कोशिश कर रहे हैं. मधेपुरा जिला मुख्यालय में पंजाब नेशनल बैंक के अगल बगल के दुकान पर और स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की मुख्य शाखा के अगल बगल की दुकान पर भी आप ऐसे लोगों को देख सकते हैं. जबकि रूपये एक्सचेंज वाली फॉर्म बैंक ने मुफ्त दे रखा है, लेकिन इस वक़्त कुछ लोगो की चाँदी कट रही है.  सीधे-सादे ग़रीबों को लगता है कि ये हमारी मदद कर रहे हैं तो हमारे पास तो दो हज़ार रूपये ही हैं, बाकी दो हज़ार इनका लेने मॆ  कोई दिक्कत नही है. कहा तो यहाँ तक जा रहा है कि इस तरह के काम करने वाले बाज़ारों से पाँच सौ के नोट चार सौ मॆ खरीद रहे हैं. बैंकों मॆ इतनी भीड़ है लोग हर तरफ़ परेशान दिख रहे हैं. मधेपुरा में आज अपराह्न के तीन बजे कुछ एटीएम खुले तो कतार रिकॉर्ड तोड़ हो गई.
    जब तक स्थिति सामान्य नहीं हो जाती तबतक तो ऐसा ही लगता है कि काला धन पर सर्जिकल स्ट्राइक के चक्कर मॆ गरीबो के धन पर भी स्ट्राइक हो रहा है.
(रिपोर्ट: महताब अहमद)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...