07 नवंबर 2016

छठ की छटा :हुई नजरें इनायत तो अद्भुत रही शिवगंगा घाट पर छठ

लोक आस्था का महापर्व छठ उदयाचल सूर्य को अर्घ्य देने के साथ ही समाप्त हो गया पर चार दिनों तक चले इस महापर्व की रौनक सिंहेश्वर के शिवगंगा पर इस बार देखते ही बनती थी.
       जिलाधिकारी की नजरें इनायत होने के कारण मधेपुरा जिले के सिंहेश्वर शिवगंगा घाट जिले का सबसे सुंदर छठ घाटों में से एक रहा. हालांकि देवाधिदेव महादेव के परिसर में स्थित शिवगंगा में महादेव के कामना लिंग के सामने छठ करने का लाभ कोई छोड़ना नही चाहता है. कल तो कई छठ व्रती अपने घर से ही दण्डप्रणामी देते छठ घाट तक पहुंचे और बाबा भोलेनाथ के पूजा अर्चना के साथ साथ अस्ताचल और उदयाचल सूर्य को अर्घ्य दिया. इस बार जिला प्रशासन ने पूरे घाट पर विशेष व्यवस्था कर दी जिससे चारो तरफ रौशनी की पर्याप्त व्यवस्था के साथ साथ पूरे बाजार में लगाये गये ध्वनि विस्तारक यंत्र से बज रहे छठ मैया की मधुर धुन भक्ति मय वातावरण में छठ व्रतियों को सराबोर करते रहे. हर साल की भांति इस साल भी फ्रेंड्स क्लब के सदस्यों ने सुबह 4 बजे से ही अर्घ्य के लिए गाय के कच्चे दूध का वितरण किया. वही शिवगंगा पर ही सूप रहने के कारण घाट पर कुछ लोग तास खेलते नजर आये. तास खेलने के कारण घाट पर तैनात पुलिसकर्मियों का मन पूरी रात लगा रहा. घाट पर सुबह विधि व्यवस्था के निरीक्षण के लिए डीएम मो. सौहेल और एसपी विकास कुमार घाट पर पहुंचे और किये गये व्यवस्था पर संतोष व्यक्त किया. मौके पर बीडीओ अजीत कुमार, सीओ जय जय राम यादव, इंस्पेक्टर आर सी मेहता, वोट पर एसडीआरफ के गणेश साह अपने दल के साथ मौजूद थे.
(Dr. I. C. Bhagat)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...