02 नवंबर 2016

‘ग्लैमर और ठाकुरसुहाती के लिए नीतीश कर रहे हैं ड्रामा’: पप्पू यादव

मधेपुरा: सूबे में खेल से संबंधित मामलों को लेकर सांसद पप्पू यादव ने किया सूबे की सरकार को कटघरे में खड़ा.
कहा 40 वर्षों से विभिन्न खेलों को बिलकुल समाप्त कर चुकी है राज्य सरकार, चाहे बिहार में आज तक जिसकी भी रही हो सरकार.
      सांसद पप्पू यादव इतने पर चुप नहीं रहे उन्होंने कहा कि सूबे के मुखिया नीतीश कुमार ने अपने बयान में कहा कि बिहार में धोनी और रैना को लाएँगे .जब सूबे में कोई खेल कमिटी एवं क्रिकेट बोर्ड का आज तक गठन हीं नहीं हो पाया है, तो मैं पूछना चाहता हूँ नीतीश कुमार जी से कि आप अपने ग्लैमर और ठाकुरसुहाती के लिए क्यों ड्रामा कर रहे हैं? आप बिहार में खेल की परम्परा को हीं समाप्त कर चुके हैं औरे खेल प्रतियोगिता के लिए ना पैसा है ना ही कोई परम्परागत नीति. और तो और खिलाडियों के लिए भी आपके पास कोई नौकरी भी नहीं है तो जनता को क्यों मूर्ख बना रहे हैं?
सांसद राजेश रंजन उर्फ़ पप्पू यादव ने सदर प्रखंड के धुरगांव में आयोजित लक्ष्मी पूजा मेला के दौरान चल रही कुश्ती प्रतियोगिता के दौरान मधेपुरा टाइम्स से बातें कर रहे थे. उन्होंने कहा कि बगल के महुआ के एक जवान की बॉर्डर पर मौत हो जाती है तो आपको देखने की भी फुर्सत नहीं है. आपके मंत्री महुआ में महाभारत की रासलीला और कृष्णलीला रचाते हैं, लेकिन सेना को देखने तक नहीं जाते हैं तो आप जनता को क्या कुछ संदेश देना चाहते हैं? मैं मांग करना चाहता हूँ जो सेना के हवलदार राजीव नायक की मौत हुई है उन्हें कम से कम 20 लाख रुपये मुआवजा दें ताकि उनके बच्चों की शिक्षा-दीक्षा समय पर हो सके. सांसद श्री यादव ने कुश्ती खेल प्रतियोगिता के मामले में राज्य सरकार को आड़े हाथों लेते हुए जिले में प्रत्येक पंचायत स्तर पर खेल स्टेडियम भी बनाने की मांग की है. उन्होंने कहा कि मैं हमेशा सदन में इन खेलों के लिए आवाज बुलंद किया हूँ और फिर करूँगा.
 मौके पर अखिलेश कुमार,देवाशीष पासवान जिला परिषद् के उपाध्यक्ष रघुनंदन दास, पप्पू कुमार,अमित कुमार,जनाधिकार पार्टी के शिवमणि सिंह उर्फ़ प्रशांत कुमार, प्रो. युगल किशोर यादव, खगड़िया के कुश्ती पहलवान और मधेपुरा के पहलवान समेत बड़ी संख्यां में ग्रामीण नेता मोजूद थे.
(Report: Kumar Shankar Suman, Sub-editor)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...