30 नवंबर 2016

खाप का बाप: युवती के साथ पहले गैंगरेप, फिर बाल काट कालिख लगाकर घुमाया

मधेपुरा में एक 20 वर्षीया युवती को गाँव के ही सरपंच पति और इनके गुर्गों ने मिलकर पहले तो हवस का शिकार बनाया फिर महिला के बाल काट कर उसे कालिख लगाकर गाँव में घुमा दिया.
मामला पिछले 06 अक्तूबर 2016 की जिले के शंकरपुर थाना के लाही गाँव की है, जहाँ गाँव के बगल में पीड़िता और इनके परिजनों को एक सरकारी स्कूल के अलग-अलग कमरे में बंदकर रखकर पीडिता के साथ सरपंच पति समेत अन्य चार दरिंदों ने रात भर दरिंगी की हदे पार करते रहे. इस मामले में गाँव के सरपंच पति और मुर्दा समाज के लोगों ने पीडिता की आवाज दबा कर रखी थी.
    बात की भनक मीडिया को लगने पर मामले का खुलासा  हुआ पुलिस हरकत में आ गई. मधेपुरा एस.पी. विकास कुमार के निर्देशन में सरपंच पति समेत पांच लोगों पर हुआ महिला थाना में मामला दर्ज और पुलिस ने एक सख्स को गिरफ्तार कर लिया है. हैरानी की बात तो यह हिया कि हैवानियत का खेल चलता रहा और गाँव का मुर्दा समाज उसे चुप-चाप देखता रहा.
    इस घटना ने हरियाणा के खाप पंचायतों को भी शर्मिंदा कर दिया है. सवाल यह कि पूरे गाँव के सामने एक बेबस लड़की और उसके परिवार वालों की बेहरहमी से पिटाई होती है, पीडिता और उसके परिवार के सदस्यों को घर के पास ही एक सरकारी स्कूल के अलग अलग बंद कमरे में रखा जाता है. यहाँ रात भर दरिंगी का खेल चलता है पीडिता की माने तो कोई और नहीं, गाँव के हीं सरपंच पति और उनके गुर्गों ने ही रात भर पीडिता के साथ बंद कमरे में दरिंदगी की सभी हदें पार की है. यही नहीं,  दरिंदगी के बाद रात में ही वहां नाइ बुलाया जाता है और पीडिता के बाल भी काटे जाते हैं.  फिर सुबह होते ही दरिंदो ने उलटे पीड़िता के साथ किसी और तथा कथित प्रेमी का तार जोड़कर कथित प्रेमी और पीडिता को कालिख-चूना लगा कर तथा चप्पल-जूते की माला पहना कर ढोल नगाड़े के साथ गाँव में घुमाया जाता है. पीडिता के साथ जुल्म इतने पर ही ख़त्म नहीं हुआ., दरिंदों ने बाद में कथित प्रेमी से उसकी जबरन शादी भी करा दी. कथित प्रेमी पीड़िता को दिल्ली लेकर चला जाता है. मामला तब और गंभीर हो जाता है जब कथित प्रेमी उसे 16 अक्तूबर को दिल्ली रेलवे स्टेशन पर छोड़कर फरार हो जाता है.
      इस घटना की पुष्टि अब जाकर सभी कर रहे हैं. फ़िलहाल मधेपुरा महिला थाना में मामला दर्ज कर इस मामले में एक सख्स को गिरफ्तार भी कर लिया गया है. इस मामले में एस.पी. विकास कुमार ने बताया कि पीडिता का बयान दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 164 के तहत दर्ज करने हेतु व्यवहार न्यायालय भेजा गया है तथा मेडिकल जांच करवाने के बाद अनुसंधान के तहत कार्रवाई की जाएगी.
     हालांकि बाद में यह भी बताया गया कि किसी भी प्रकार के दुकर्म की बात पीड़िता ने न तो प्राथमिकी न ही कोर्ट में धारा 164 के तहत हुए बयान में कहा है. हालांकि उसने अन्य आरोपो के साथ नग्न करने की बात जरूर कही है. यह भी बताया कि वर्ष 2005 में उसकी शादी हुई थी और कुछ दिन पूर्व जब वह अपने ननिहाल आयी तो इस तरह की घटना हो गई तथा उसका नाम एक अन्य के साथ जोड़कर उसके साथ ऐसी घटना को अंजाम दिया गया. मामले में सरपंच पति समेत पांच लोगों को आरोपित किया गया है, इसमें एक आरोपित को गिरफ्तार कर लिया गया.
(देखे वीडियो, यहाँ क्लिक करें)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...