19 नवंबर 2016

मधेपुरा: दबंगों ने महादलितों के दर्जनों घरों को किया आग के हवाले, दो गिरफ्तार

मधेपुरा में दबंगों के इशारे पर अज्ञात अपराधियों ने उत्पात मचाते हुए किरासन तेल डालकर महादलितों के एक दर्जन से अधिक घरों को आग के हवाले कर दिया.
इस दौरान दबंगों ने कई राउंड गोली भी चलाए.  मामला पुराने भूमि विवाद से जुड़ा हुआ बताया जा रहा है. घटना उदाकिशुनगंज थाना अंतर्गत  बुधमा सहायक थाना के ओराय गाँव की है. पुलिस ने इस मामले को लेकर कार्तिक ऋषिदेव के फर्द बयान पर 8 लोगों के विरुद्ध मामला दर्ज किया है. दो आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. घटना के बाद गाँव में दहशत का माहौल है और भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किये गए हैं. जिला प्रशासन के निर्देशन में घटना स्थल पर जिला आपदा प्रबंधन की टीम भी पहुंची और पीड़ित लोगों के तत्काल रहने हेतु 18 टेंट लगाए जा रहे हैं और उन्हें आवश्यक राहत सामग्री के साथ 14 हजार रूपये की सहायता राशि भी दी जा रही है. वहीँ डीएम और एसपी खुद भी लगातार कैम्प कर रहे हैं.

क्या है पूरा मामला?: जानकारी के अनुसार गुरूवार की अर्धरात्रि  में  मधेपुरा जिले के उदाकिशुनगंज थाना क्षेत्र के बुधमा सहायक थाना के ओराय गाँव में दबंगों के इशारे पर अज्ञात अपराधियों ने उत्पात मचाया. अज्ञात अपराधियों ने किरासन तेल डालकर 18 घरों को आग के हवाले कर दिया और कई राउंड गोली भी फायर करते मौके वारदात से भाग निकले. घटना पुराने भूमि विवाद से जुड़ा बताया जा रहा है. सूचना पाते हीं मौके वारदात पर पहुंचकर पुलिस मामले की गहराई से तफ्तीश कर रही है. वहीँ एसपी और डीएम भी खुद घटना स्थल पर पहुंचकर पीड़ित परिजनों से मुलाकात कर कार्रवाई करने का भरोसा दिया. पीड़ितों की माने तो 15 वर्ष पहले भागलपुर के जमींदार राजा राय से जरबयाना बनवाकर लगभग 10 लाख में लिया था और बाद में जमींदारों ने अन्य लोगों के हाथों इन जमीन को बेच दिया जिससे भूमि विवाद का मामला गहराता गया. स्थिति आशियानों में आग तक पहुँच गयी और महादलित लोग बे-घर हो गए. मधेपुरा टाइम्स ने जब पीड़ित परिजनों से बात की तो कई लोगों ने आरोपी गजेन्द्र सिंह, सिंटू सिंह आदि कई लोगों पर आरोप लगाया कि इन लोगों ने मिलकर घरों में आग लगाकर बेघर कर दिया है, जिससे महादलित समुदाय के 18 परिजन घर से बेघर हो चुका है.
पर एक बात संतोष के लायक है कि भूमि विवाद को लेकर दबंगों के इशारे पर एक दर्जन से अधिक महादलितों के घरों को बर्बाद करने के मामले में जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन काफी सख्त है. पीड़ित कार्तिक ऋषिदेव के फर्द ब्यान पर 08 लोगों के विरुद्ध मामला दर्ज कर दो आरोपी गिरफ्तार किये जा चुके हैं. पीड़ित परिजनों को एस पी विकास  कुमार ने दिया कार्रवाई का भरोसा तो वहीँ डीएम ने बताया कि इस मामले में आठ लोगों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. मधेपुरा और खगड़िया के अलग-अलग जगहों पर छापेमारी की जा रही है.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...