17 नवंबर 2016

दुर्घटना ने एक झटके में उजाड़ा दो परिवार, अंतिम दीदार को पूर्व मंत्री समेत उमड़ा हुजूम

सहरसा के बैजनाथपुर में सड़क हादसे के शिकार चौसा चौसा प्रखंड के पैना के इम्तियाज अहमद फिरदोसी एवं नियाज आलम को सुपुर्द ए खाक कर दिया गया.
लोगों ने नम आँखों से इन्हें दी अंतिम विदाई. इनके अंतिम दर्शन के लिए जन सैलाब उमड़ पड़ा था. शिक्षक के रूप में इलाके में बेहद लोकप्रिय इम्तियाज अहमद फिरदोसी और सम्बन्धी नियाज के मौत की खबर जिसने भी सुनी, उनके अंतिम दर्शन के लिए दौड़ पड़े. बता दें कि कल बहन की शादी का कार्ड बांटने जाते समय ट्रक ने इनकी मोटरसायकिल को ठोकर मार दी थी, जिससे इनकी मौत हो गई.
   इनके दर्शन के लिए आलमनगर के विधायक सह पूर्व मंत्री नरेंद्र नारायण यादव, चौसा प्रखंड प्रखंड विकास पदाधिकारी मिथिलेश बिहारी वर्मा, थाना अध्यक्ष सुमन कुमार सिंह, प्रखंड पूर्व अध्यक्ष मनोज प्रसाद, डॉ0 नरेश ठाकुर निराला आदि अंतिम दीदार को पहुचे थे.
     श्री यादव ने कहा कि फिरदोसी एक अच्छे इंसान थे. अच्छे लोग चले जाते हैं लेकिन उनकी याद जिंदगी भर आती रहती है.  इम्तियाज अहमद फिरदोसी अपने पीछे एक विकलांग पुत्र और दो पुत्री छोड़ गए हैं.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...