05 नवंबर 2016

महापर्व छठ: सुपौल में 261 घाटों पर तैनात रहेंगे सुरक्षा बल व दंडाधिकारी

सुपौल। लोक आस्था के महापर्व छठ पूजा को लेकर सुपौल जिले में सुरक्षा और व्यवस्था को ध्यान में रखते प्रशासनिक तैयारी पूरी कर ली गयी है.
सुरक्षा सहित अन्य मामलों को लेकर डीएम बैद्यनाथ यादव एसपी डॉ कुमार एकले ने सम्बधित अधिकारियों को कई निर्देश जारी किये हैं. महापर्व के इस अवसर पर अधिकारी द्वय द्वारा संयुक्त आदेश जारी कर सभी घाटों पर सुरक्षा बल के साथ ही दंडाधिकारी की प्रतिनियुक्ति सहित गोताखोरों को भी लगाया गया है.

जिले के 261 घाटों को किया गया चिन्हित: जिले में 261 घाटों को चिन्हित कर वहां अधिकारियों एवं पुलिस बल की तैनात की है. आदेश में कहा गया है कि छठ पर्व को लेकर घाटों पर श्रद्धालु व्रतियों की भाड़ी भी उमड़ती है. इस दौरान नदी तालाबों में डूबने की आशंका भी बनी रहती है. वहीं अफवाह की वजह से कभी-कभी भगदड़ होने की स्थिति भी बन जाती है. वर्तमान में आतंकवादियों उपद्रवी तत्वों के द्वारा भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर विधि-व्यवस्था भंग किये जाने की संभावना से भी इंकार नहीं किया जा सकता. यही वजह है कि घाटों की सुरक्षा एवं विधि-व्यवस्था बनाये रखने हेतु सभी थाने के अधिकारी के साथ ही महिला पुरूष सुरक्षा बल की तैनाती की गयी है.

किया गया है नियंत्रण कक्ष की स्थापना: इसके अलावा पूरी स्थिति पर निगरानी रखने हेतु जिला मुख्यालय में नियंत्रण कक्षा की स्थापना की गयी है. उन्होंने कहा है कि महापर्व के मौके पर असामाजिक तत्वों द्वारा अफवाह फैला कर सौहार्द बिगाड़ने का प्रयास किया जा सकता है, जिसे देखते हुए सभी अनुमंडल पदाधिकारी, एसडीपीओ एवं अन्य अधिकारियों को अपने क्षेत्र में सजग एवं भ्रमणशील रहने का आदेश दिया गया है. साथ ही विद्युत विभाग को बिजली की व्यवस्था सुनिश्चित करने, अपर समाहर्ता आपदा को प्रमुख घाटों पर एनडीआरएफ एसडीआरएफ की प्रतिनियुक्ति करने तथा सिविल सर्जन को सभी अस्पतालों में आकस्मिक चिकित्सा व्यवस्था तैयार रखने एवं अतिरिक्त चिकित्सक पारा मेडिकल स्टाफ को भ्रमणशील रहने का आदेश दिया गया है.   
      अधिकारी द्वय ने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी एवं थानाध्यक्षों को अपने क्षेत्र के घाटों का निरीक्षण करने एवं सुरक्षित जल क्षेत्र में बैरेकेटिंग लगवाने का आदेश भी दिया है.
(Report: Ashok Yadav, Sub-Editor) 

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...