14 अक्तूबर 2016

बिहारीगंज चौथा दिन: पटरी पर लौट रही जिन्दगी, जिले में इंटरनेट सेवा ठप्प

मधेपुरा जिले के बिहारीगंज में दुर्गापूजा की नवमी की रात से उपजा तनाव और विगत दिन दिनों के उपद्रव के बाद आज स्थिति सामान्य होती नजर रही है. हालांकि बाजार में सन्नाटा है पर एक्का-दुक्का दुकानें खुली है.
            मिली जानकारी के अनुसार कल जिला प्रशासन और बाहर से मंगाए गए पुलिस बल की सख्ती के बाद आज अराजक तत्वों का मनोबल टूटता नजर आ रहा है. प्रशासन ने स्थिति से निपटने के सारे उपाय कर दिए हैं. बिहारीगंज समेत जिले भर में इंटरनेट सेवायें बंद कर दी गई है. माना जाता है कि ऐसा इसलिए किया गया है ताकि अफवाह और माहौल बिगाड़ने वाली गलत खबर न फ़ैल सके.
            कल रात में बिहारीगंज मार्केट में लाउडस्पीकर से पूरे बाजार में धारा 144 दंड प्रक्रिया संहिता लागू होने की घोषणा करवा दी गई ताकि एक जगह पांच से ज्यादा लोग एकत्रित न हो सके. प्रशासन द्वारा दुकानदारों से दुकानें खोलने का आग्रह किया गया है. हालांकि आज दिन में कम ही दुकानें खुली है. उधर कल दोनों समुदायों से 42 और 15 उपद्रवियों को गिरफ्तार कर देर रात ही रिमांड कर जेल भेज दिए जाने से असामाजिक तत्वों में खौफ उत्पन्न हुआ है. शरारती तत्वों पर प्रशासन नजर रख रही है. हालांकि इसी बीच उदाकिशुनगंज व्यापार संघ द्वारा प्रशासन के खिलाफ उदाकिशुनगंज बाजार को आज बंद रखने का आह्वान किया गया है.
            जहाँ सूबे के आपदा मंत्री प्रो० चंद्रशेखर ने कहा कि एक राजनीतिक साजिस के तहत बिहारीगंज को सुलगाने की कोशिश की गई थी वहीँ मधेपुरा के जिलाधिकारी मो० सोहैल ने कहा कि स्थिति सामान्य है और बाकी दुकानें भी खुल जायेगी. 
(नि.सं.)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...