25 अक्तूबर 2016

पुल का एप्रोच पथ सरकारी सड़क पर नहीं बनाने पर ग्रामीणों ने काम रोका

मधेपुरा में एक पुल के एप्रोच पथ निर्माण में संवेदक की लापरवाही पर ग्रामीण आक्रोशित हो गए और काम रोक दिया.
मधेपुरा जिले के सिंहेश्वर प्रखंड में मजरहट घाट पर बन रहे  पुल का एप्रोच पथ सरकारी सड़क  को छोड़ कर बनाने के कारण ग्रामीणों ने कई बार संवेदक  के मुंशी को इस ओर ध्यान दिलाया. मगर संवेदक के मुंशी के द्वारा ग्रामीणों के आग्रह को नजरअंदाज करने से आक्रोशित ग्रामीणों ने पुल का  एप्रोच निर्माण कार्य रोक दिया. ग्रामीणों ने सही जगह पर एप्रोच पथ  बनाने और एप्रोच पथ निर्माण में हुई अनियमितता दूर करने की विधायक और बीडीओ से मांग की.
      जानकारी के अनुसार सिंहेश्वर से  मजरहट के लोगों को 14 किलोमीटर घूम कर जाना पड़ता था, जो पुल बनने के बाद  महज दो किलोमीटर है. स्थानीय जदयू नेता दीपक यादव ने कहा  विधायक रमेश ऋषिदेव ने अपने चुनावी वादा निभाते हुए पहली बार मजरहट से सिंहेश्वर का सीधा संपर्क मजरहट घाट पर पुल देकर किया. पुल के बाद एप्रोच पथ में मिट्टी बचाने के लिए ग्रामीणों द्वारा घाट तक पहुंचने के लिए डाले गए मिट्टी पर ही मिट्टी डाल कर आनन फानन में एप्रोच पथ बना दिया, जिसमे तो ठीक से मिट्टी दिया गया है और ही सड़क  पर रोलर चलाया गया है. कल जब उस सड़क पर एक ओटो सड़क  के धसने के कारण पलटते पलटते बची तो ग्रामीण आक्रोशित हो गये.
कहते है जनप्रतिनिधि :-  जिला परिषद् सदस्य अभिलाषा कुमारी ने बताया कि ग्रामीणों मांग जायज है संवेदक सड़क  के नक्शे के अनुसार ही सड़क  का निर्माण करे. सरपंच पति अर्जुन मंडल ने बताया कि बहुत ही आशा के बाद आवागमन शुरू हुआ है, संवेदक के लापरवाही के कारण अगर एप्रोच पथ के उत्तर मिट्टी नही डाला गया तो बारिश के समय में बारिश के पानी से  कटाव में एप्रोच पथ टूट जायेगा और फिर हम लोगों को वही परेशानी का सामना करना पड़ेगा. उप मुखिया शिबू मंडल ने कहा कि संवेदक द्वारा दीपावली से पहले जाने के चक्कर में जल्दबाजी में सड़क  बिना रोलर दिये गिट्टी बिछाने के कारण ही सड़क धसने लगा है. जेई पुल निगम उमेश कुमार यादव ने कहा संवेदक को  9 मीटर चौड़ा और 115 मी लंबी पुल पर एप्रोच पथ का निर्माण करना है, जो लगभग  बन चुका है. लेकिन ग्रामीणों के द्वारा और मिट्टी डालने की बात कही जा रही है. हमने संवेदक को कुछ जगह मिट्टी डालने को कहा भी है.
          विधायक रमेश ऋषिदेव ने कहा कि एक्जक्यूटिव से बात कर एप्रोच पथ पर जहां जहां मिट्टी लगेगा वहा मिट्टी दिलाया जायेगा और एप्रोच पथ सरकारी सड़क पर ही बनाया जायेगा.मौके पर पंच पाचू ऋषिदेव, मोसीम आलम, राम बहादुर मंडल, चंद्र किशोर मंडल, मो. यूनुसचिनो पंडित, देव नारायण ऋषिदेव, बहादुर शर्मा, मो. मंजूर आलम, अब्दुल रहीम, जगदीश मंडल, बेचन पंडित, राज कुमार साह, अरविन्द यादव आदि मौजूद थे.
(रिपोर्ट: डॉ. आई. सी. भगत)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...