06 अक्तूबर 2016

मनमोहक रही नन्ही स्कूली छात्राओं द्वारा दुर्गा के नौ रूपों की प्रस्तुति

मधेपुरा जिला मुख्यालय स्थित हॉली क्रॉस स्कूल में आज शिक्षक-अभिभावक मीटिंग तथा परीक्षा परिणाम के अवसर पर आयोजित एक कार्यक्रम में नन्हीं बच्चियों द्वारा नवरात्रि पर माँ दुर्गा के सभी नौ रूपों की प्रस्तुति बेहद मनमोहक रही.
            शैलपुत्री के रूप में ख़ुशी (वर्ग-1), ब्रह्मचारिणी के रूप में सोनाली (वर्ग-4), चंद्रघंटा के रूप में गार्गीश (वर्ग-1), कुष्मांडा के रूप में कुशंगी
(M-III), स्कंदमाता(रिशिका-वर्ग -2), kaatyani (कुमकुम सोनी-M-II), कालरात्रि (प्रेरणा- वर्ग-1), महागौरी (स्वस्तिका-1), सिद्धिदात्री (रितिका-1) के अलावे महिषासुर के रूप में अजब (वर्ग-1) की प्रस्तुति ने शिक्षकों तथा अभिभावकों का मन मोह लिया.

            इसके अलावे विद्यालय के सभी शिक्षक-शिक्षिकाओं एवं छात्राओं ने गरबा तथा डांडया नृत्य की भी प्रस्तुति दी तथा सभी बच्चों को पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया. मौके पर स्कूल की प्राचार्य डॉ. वंदना कुमारी ने कहा कि सम्पुर्ण विश्व स्त्री शक्ति को पहचानें. विद्या, धन, शक्ति एवं प्रेम की देवी सरस्वती, लक्ष्मी, दुर्गा एवं राधा के रूप में पूजी जाती है और इनके बिना समाज नहीं चल सकता है. इसलिए बेटियों को देवी का दर्जा मिले- 'या देवी सर्व भूतेषु, शक्ति रूपेण संस्थिता....'
    मौके पर आरती झा, किरण सिंह, सरिता सिन्हा, सोनी, सुनीता, साक्षी, पुष्पांजलि, अंजलि सुमन तथा सभी शिक्षक मौजूद थे.
(ए.सं.)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...